नवीनतम लेख/रचना

  • बेकार की चीज

    बेकार की चीज

    रामू एक किसान था । अब वृद्ध हो चला था सो उसके तीनों बेटे ही अब खेती बारी का काम देखते थे । खेती के अलावा उसके घर पर कई भैंसें गायें और बैल भी थे...

  • परिन्दे की उड़ान

    परिन्दे की उड़ान

    ‘परिन्दे की उड़ान’ ऐ परिन्दे! उड़, अभी तेरी उड़ान बाकी है; नजर ऊपर तो उठा, अभी पूरा आसमान बाकी है। निर्मल-नील-गगन में गुनगुनाता चल; नित-नए सफलता के गीत गाता चल। जाना है जहां तुझे, अभी वो...

  • चरित्रहीन

    चरित्रहीन

    सक्सेना साहब आज बहुत खुश थे। उनके परम मित्र ने उन्हें एक महिला का पता व फ़ोन नंबर दिया था जिससे वो जब चाहे मिल सकते थे और कुछ पैसे देकर मनचाही सन्तुष्टि कर सकते थे।...

  • गजल…..

    गजल…..

      तुम्हें प्यार ऐसे सजन कर रहीं हूँ । तेरे नाम का ही भजन कर रही हूँ । सताओ न ऐसे चले अब तो आओ । हरिक साँस अपनी हवन कर रही हूँ । तुम्हें याद...


  • हम सबकी जिम्मेदारी है

    जरा समझिए: प्रतिभाशीलता शब्द एक विशेषण है, जिसका तात्पर्य है कि एक ऐसा व्यक्ति जो विशेष रूप से असाधारण योग्यता या बुद्धि से सम्पन्न हो. प्रतिभाशाली व्यक्तियों पर अध्ययन लेविस तरमन के सन् 1925 के कार्य...

  • ख़ुशी का अनुभव

    ख़ुशी का अनुभव

    स्कूल में भोजन के लिए मध्यान्ह अवकाश का समय था । अन्य सभी बच्चों की तरह दीपू भी अपनी टिफिन लेकर भोजन करने बैठा था । टिफिन खोलते ही उसकी नजर स्कूल ग्राउंड के बाहर बैठी...

  • मुख्य मंत्री योगी की प्राथमिकताएं

    मुख्य मंत्री योगी की प्राथमिकताएं

    उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री का पद संभालने के बाद पहली बार योगी आदित्‍यनाथ गोरखपुर पहुंचे जहां उनका भव्‍य स्‍वागत किया गया. यहां लोगों को संबोधित करते हुए उन्‍होनें कहा, “य‍ह नागरिक अभिनंदन मेरा नहीं बल्कि उत्तर...

  • मुक्तक

    मुक्तक

    मुक्तक:-   किसानों से जमीनें छीन उनके प्राण हरना है, अमीरों के हितों को ध्यान में रख काम करना है, कोई जीते कोई हारे फरक पड़ना नहीं कुछ भी, वतन को लूट कर इनको तो अपना...


राजनीति

कविता