Monthly Archives: September 2014

  • अस्तित्व….

    अस्तित्व….

    उस भीड़ वाले माहोल मे भी किरण का जैसे दम घुटने लगा| मेजबान अंजली किरण की परेशानी को कब से ही महसूस कर रही थी| ”आपको कोई परेशानी है क्या?, अंजली ने किरण से पूछा| ”नहीं...