स्वास्थ्य

पांच राज्यों में आयुष एम्स खोलेगी केन्द्र सरकार- श्रीपाद नाईक

लखनऊ, 26 जून (हि.स.)। केंद्र सरकार अगले केछ वर्षों में पांच राज्यों में आयुष एम्स खोलने की तैयारी में है। इसके लिए तैयारियां शुरू है। बृजनन्दन यादव से विशेष बातचीत करते हुए केन्द्रीय आयुष मंत्री श्रीपाद नाईक ने बताया कि जिन राज्यों में आयुष एम्स खोले जाने हैं उनमें दिल्ली, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, उड़ीसा और पश्चिम बंगाल शामिल हैं। इन एम्स संस्थानों में आयुर्वेद, योग, यूनानी और सिद्धा चिकित्सा पद्धति से मरीजों का इलाज होगा।

इतना ही नहीं केंद्र सरकार यूनानी, योग, आयुर्वेद और सिद्धा को बढावा भी देगी। इसके लिए भी खाका तैयार किया जा रहा है। केंद्र सरकार हर राज्य में आयुष विश्वविद्यालय खोलेगी। जल्दी ही प्रदेश सरकारों से इसके लिए संबंधी प्रस्ताव मांगा जाएगा। यहां शिक्षा लेने वाले छात्रों को विवि सर्टिफिकेट भी देगा।

एक सवाल के जवाब में श्री नाईक ने कहा, योग को गांव गांव तक पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार गंभीर है। दो वर्ष के भीतर हर गांव तक योग की पहचान बनाने की योजना है। एक टाॅस्क फोर्स के जरिए तीन महीने के भीतर रिपार्ट मंगाई जा रही है।

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि उत्तर प्रदेश में जल्द ही सिद्धा चिकित्सा पद्धति शुरू होगी। अन्य प्रदेशों से भी सूचनाएं एकत्रित की जा रहीं हैं। डाॅ. नागेंद्र की अगुवाई में टास्क फोर्स तेजी से काम कर रहा है।

इनसेटः
-यूपी सरकार ने नहीं भेजा है प्रस्ताव
एक सवाल के जवाब में श्री नाईक ने बताया कि उप्र सरकार ने आयुष से जुड़ा कोई भी प्रस्ताव नहीं भेजा है। यदि राज्य सरकार आयुष संबंधी प्रस्ताव भेजती है विचार किया जाएगा।

इनसेटः
-योग को पाठ्यक्रम में शामिल करेगी केंद्र सरकार
केंद्र सरकार योग को पाठ्क्रम में शामिल करेगी। मुस्लिम पर्सनल लाॅ बोर्ड की आपत्तियों में कोई दम नहीं है। योग पाठयक्रम में शामिल होगा। योग को गांव तक ले जाने के लिए यह बहुत जरूरी है। इससे जुड़ने वालों की स्वतंत्रता है, जो नहीं चाहता है, वह इससे न जुड़े। केंद्र सरकार कोई दबाव नहीं देने जा रही है।

परिचय - बृज नन्दन यादव

संवाददाता, हिंदुस्थान समाचार

Leave a Reply