Monthly Archives: August 2015


  • उड़ेंगी बिटिया

    उड़ेंगी बिटिया

    नीतू भतीजी , डॉ बिटिया महक , प्रीती दक्ष , स्वाति , मोनिका संग बहुत सी बिटिया रब ने दिलाई कोखजाई एक भी नहीं ना इनमें से किसी से मेरा गर्भनाल रिश्ता है लेकिन जो रिश्ता...

  • आरक्षण की रेलमपेल

    आरक्षण की रेलमपेल

    हमारे एक मित्र के अनुसार – आरक्षण तो रेलवे कोच में भी होता है पर, क्या कभी आपने सोचा है कि यदि संविधान के प्रथम अनुच्छेद के हिसाब से होता तो कैसा होता ! कुछ इस तरह :-...

  • मेरी कहानी 56

    रंजीत सिंह के बाद फिजिक्स के प्रोफेसर अजीत सिंह थे जो काफी स्मार्ट होते थे और हर रोज़ नई नेकटाई लगाते थे। पढ़ाने में बहुत अच्छे थे। कुछ शो अप्प भी ज़्यादा करते थे ,हो भी...


  • भगवान बिक रहे है

    भगवान बिक रहे है

    इस दुनिया में पाप का घड़ा कुछ इस तरह भर रहा है, मिटी से बने कुछ प्रतिमाये भगवान के नाम पर बिक रहा है, कलयुग के इस मध्यम चरण में लोग झूठे मुस्कान बोल रहे है...

  • एक आखरी मौका..

    एक आखरी मौका..

    कायर हो तुम और कायर कभी नहीं करते है झगड़ा, एक आखरी मौका देते है आओ सुलझाएँ अपना रगड़ा, तुम्हारे इस रोज़ रोज़ के नापाक हरकतों से, कितने निर्दोष और लाचार लोगो की हो रही है...



  • दोहे !

    दोहे !

        विवेक को बनाओ जज, मन होगा रस्ते पर सचाई के सांगत में, विवेक पहरेदार | ******************************** साम-दाम-दण्ड व भेद, स्वार्थ-नीति हैं सब स्वार्थी नेता सोचते, उनके दास हैं सब | ******************************** नहीं धार्मिक यहाँ...