गीत/नवगीत

गीत : मेरी कहानी

वही बसा है दिल में मेरे, उससे बनी कहानी है।
दिल की वो धड़कन है मेरी साँसें भी बेगानी है।।

बदल रहा है जाने क्यों वो, सौतन पर दिल आया है ।
जाने क्या क्या बोल बोलकर, प्रियतम को भरमाया है ।
सुने नहीं वो बात किसी की,जादू कैसा डाला है ।
जीवन हुआ आज कुछ ऐसा, जैसे खाली प्याला है ।
कड़वी बातें लगती मेरी, मीठी उसकी बानी है ।
दिल की वो धड़कन है मेरी, साँसें भी बेगानी है ।

रूप रंग में क्या मैं कम हूँ, जो उसके संग जाते हैं ।
रतियाँ काटूँ इन्तज़ार में, उसका साथ निभाते हैं ।
याद करो वो सुंदर लम्हे, जो बस अपने होते थे ।
देख के आंसू इन आँखो में, बिलख बिलख कर रोते थे।
मैं तेरी जोगन हूँ भोली, सौतन बडी सयानी है ।
दिल की वो मेरे धड़कन है मेरी, साँसें भी बेगानी है।

अनुपमा दीक्षित मयंक

परिचय - अनुपमा दीक्षित भारद्वाज

नाम - अनुपमा दीक्षित भारद्वाज पिता - जय प्रकाश दीक्षित पता - एल.आइ.जी. ७२७ सेक्टर डी कालिन्दी बिहार जिला - आगरा उ.प्र. पिन - २८२००६ जन्म तिथि - ०९/०४/१९९२ मो.- ७५३५०९४११९ सम्प्रति - स्वतंत्र लेखन छन्दयुक्त एवं छन्दबद्ध रचनाएं देश विदेश के प्रतिष्ठित समाचार पत्रो एवं पत्रिकाओ मे रचनाएं प्रकाशित प्रकाशाधीन पुस्तकें - लेकिन साथ निभाना तुम (खण्ड काव्य ) शिक्षा - परास्नातक ( बीज विग्यान एवं प्रोद्योगिकी ईमेल - adixit973@gmail.com

Leave a Reply