सदाबहार काव्यालय-45

कविता

 

पल्स पोलियो रविवार

 

पल्स पोलियो का अभियान,

क्यों न बने अपना अभिमान.

अगर सफल हो यह अभियान,

बने देश के हित वरदान.

आज की आवाज़,

पोलियो रहित समाज.

पोलियो हटाएं,

देश को बचाएं.

आओ मिलकर करें चढ़ाई,

पोलियो से करें लड़ाई.

आओ धरा का कर्ज़ चुका दें,

घर-घर से हम पोलियो हटादें.

पोलियो रहित हों सब इंसान,

तभी बढ़ेगी देश की शान.

पोलियो को हटाना है,

देश को बचाना है.

नवयुग का है एक ही नारा,

पोलियो रहित हो देश हमारा.

 

लीला तिवानी

Website : https://readerblogs.navbharattimes.indiatimes.com/rasleela/

परिचय - लीला तिवानी

लेखक/रचनाकार: लीला तिवानी। शिक्षा हिंदी में एम.ए., एम.एड.। कई वर्षों से हिंदी अध्यापन के पश्चात रिटायर्ड। दिल्ली राज्य स्तर पर तथा राष्ट्रीय स्तर पर दो शोधपत्र पुरस्कृत। हिंदी-सिंधी भाषा में पुस्तकें प्रकाशित। अनेक पत्र-पत्रिकाओं में नियमित रूप से रचनाएं प्रकाशित होती रहती हैं।