दो बूंदों की दवा पिलाओ

ममी मुझको स्वस्थ बनाओ,
दो बूंदों की दवा पिलाओ,
पल्स पोलियो से बचा रहूंगा,
तनिक समय मुझ पर भी लगाओ.
पांच साल तक दवा पिलाना,
पल्स पोलियो रविवार को भूल न जाना,
चूक अगर तुमसे हो जाए,
मुझको भी होगा पछताना.

 

आज 11 मार्च पल्स पोलियो रविवार है. 5 साल से छोटे बच्चों को पल्स पोलियो की दवाई पिलाना न भूलें. अपने अड़ोस-पड़ोस में भी जागरुकता का प्रसार करें.

जागरुकता के लिए लीला तिवानी के ये ब्लॉग्स भी पढ़ें-
पल्स पोलियो रविवार
पल्स पोलियो करे पुकार, भूल न जाना यह रविवार

परिचय - लीला तिवानी

लेखक/रचनाकार: लीला तिवानी। शिक्षा हिंदी में एम.ए., एम.एड.। कई वर्षों से हिंदी अध्यापन के पश्चात रिटायर्ड। दिल्ली राज्य स्तर पर तथा राष्ट्रीय स्तर पर दो शोधपत्र पुरस्कृत। हिंदी-सिंधी भाषा में पुस्तकें प्रकाशित। अनेक पत्र-पत्रिकाओं में नियमित रूप से रचनाएं प्रकाशित होती रहती हैं।