Monthly Archives: March 2018

  • गज़ल

    गज़ल

    सारे चेहरे हैं अनजाने किसको दूँ आवाज़ यहां, हो गए अपने भी बेगाने किसको दूँ आवाज़ यहां महफिल खत्म हुई अपने-अपने रस्ते सब यार गए, मुझको डसते हैं वीराने किसको दूँ आवाज़ यहां पीने लगे लहू...

  • होली मा

    होली मा

    होली मा कोई घोटाला करौ, होली मा एक दूजे पर कीचड़ डालौ, एक दूजे मा दोष निकालौ , राजनीति, मुँह काला करौ,होली मा होली मा कोई……………. संत बनौ ,योगा सिखलाओ। देशवाद कै पाठ पढ़ाओ ।। बे...

  • होली

    होली

    होली की हार्दिक शुभकामनाएँ 🌻 🌸🌻 रंग नहीं पूछते हमसे नाम ना ही पता हमारा हमारे छूते ही हो लेते हैं हमारे रंगीन कर देते हैं सूत और रेशम नहीं परखने जाते हैं फितरत या कीमत...