प्यार को फैलाना होगा

बहुत हो गई है दुनिया मे नफरत, प्यार को फैलाना होगा
जल जायेगी दुनिया इस आग मे, वक्त रहते बुझाना होगा

इंसान ही इंसान के काम आता है, ये दुनिया का है दस्तूर
मन जो दूर हुए इक दूजे से, प्यार के पुल से मिलाना होगा

मज़हब का सहारा लेकर दुनिया मे, जो करते हैं कत्ले आम
‘दया धर्म का मूल है’, उन भूले भटकों को समझाना होगा

एक धरती के सब बाशिंदे हैं, एक ही है सबका आसमान
सबको अमन के फूलों से इस गुलदस्ते को सजाना होगा

ना जाने देशों ने कितने घातक हथियार किए हैं इक्कठे
हथियारों की होड छोढ़कर, जीवन को बेहतर बनाना होगा

सुख सुविधाएं और तरक्कियाँ होती हैं, इन्सानों की खातिर
इंसान को जिंदा रखना है, तो इंसानियत को बचाना होगा

नफरत का जवाब नफरत नहीं हो सकता, इस दुनिया मे
आने वाली नस्लों की खातिर, प्यार को कदम बढ़ाना होगा
प्यार को फैलाना होगा, प्यार को फैलाना होगा

परिचय - अर्जुन सिंह नेगी

नाम : अर्जुन सिंह नेगी पिता का नाम – श्री प्रताप सिंह नेगी जन्म तिथि : 25 मार्च 1987 शिक्षा : बी.ए., डिप्लोमा (सिविल इंजीनियरिंग), ग्रामीण विकास मे स्नातकोत्तर डिप्लोमा।l पेशा : एसजेवीएन लिमिटेड (भारत सरकार एवं हिमाचल प्रदेश सरकार का संयुक्त उपक्रम) में इंजीनियर के पद पर कार्यरत l लेखन की शुरुआत : सितम्बर, 2007 से (हिमप्रस्थ में प्रथम कविता प्रकाशित) l प्रकाशन का विवरण (समाचार पत्र व पत्रिकाएँ): दिव्य हिमाचल (समाचार पत्र), फोकस हिमाचल साप्ताहिक (मंडी,हि.प्र.), हिमाचल दस्तक (समाचार पत्र ), गिरिराज साप्ताहिक(शिमला), हिमप्रस्थ(शिमला), प्रगतिशील साहित्य (दिल्ली), एक नज़र (दिल्ली), एसजेवीएन(शिमला) की गृह राजभाषा पत्रिका “हिम शक्ति” जय विजय (दिल्ली), ककसाड, सुसंभाव्य, सृजन सरिता व स्थानीय पत्र- पत्रिकाओ मे समय- समय पर प्रकाशन, पार्वती प्रकाशन इंदौर से मई २०१६ में कविता का साँझा संग्रह 'महादेवी' प्रकशितl विधाएँ : कविता , लघुकथा , आलेख आदि प्रसारण : कवि सम्मेलनों में भागीदारी l स्थायी पता : गाँव व पत्रालय –नारायण निवास, कटगाँव तहसील – निचार, जिला – किन्नौर (हिमाचल प्रदेश) पिन – 172118 वर्तमान पता : निगमित सतर्कता विभाग , एसजेवीएन लिमिटेड, शक्ति सदन, शनान, शिमला , जिला – शिमला (हिमाचल प्रदेश) -171006 मोबाइल – 09418033874 ई - मेल :negiarjun1987@gmail.com