।। कांग्रेसियों ने ली राहुल बाबा की सुपारी ।।
मुझे तो अपनों ने लुटा गैरों में कहां दम था। मेरे कश्ती थी डूबी वहां जहां पानी ही कम था। यहां पर हिंदी फिल्म दिलवाले का यह डायलांग एक दम सटीक बैठता है। वैसे तो राहुल गांधी अब कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बन चुके हैं। वह भाजपा को हराने के लिए हर एक कोशिश कर रहे हैं। लेकिन हर बार खुद हार जाते हैं। गुजरात चुनाव में उनके अपने नेता मणिशंकर अय्यर ने मोदी जी को नीच कह कर राहुल गांधी को हराया। पार्टी से निष्कासित कर दिया गया। पुनः वापसी की भी तैयारी होने लगा। अभी हाल ही में नवाब साहब ने यह कहकर एक नया बखेड़ा खड़ा कर दिया कि भारतीय सेना एवं सरकार की मंशा आतंकियों को मारने का कम आम नागरिकों को मारने का लक्ष्य ज्यादा होता है। इधर सैफुदीन साहब का यह कथन कि लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल काश्मिर को पाकिस्तान के हाथ में देना चाहते थे। अपनी पुस्तक में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री मुशर्रफ के कथनों को सच साबित करना आदि इनके बयान भी राहुल गांधी के कांग्रेस के लिए कोई शुभ संकेत नहीं दे रहे हैं। यह अभी शांत भी नहीं हुआ कि तब तक मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के कद्दावर नेता दिग्विजय सिंह दिग्गी ने एक और नया बखेड़ा खड़ा कर ही दिया। उनका कहना है कि हिंदू कोई शब्द ही नहीं है। अन्य हिंदूओं का तो पता नहीं पर मुझे तो दुख है। क्योंकि उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी जी खुद जनेऊधारी हिंदू हैं। ऐसा कांग्रेस का ही बयान गुजरात चुनाव के दौरान पढ़ने और सुनने को मिला था। अब जबकि 2019 का चुनाव आने वाला है, कुछ राज्यों में जल्द ही चुनाव होने वाले हैं। और तो छोड़िए दिग्गी राजा के अपने प्रदेश में चुनाव होने वाले हैं। अब ऐसे में वहां के हिन्दुओं का मत कांग्रेस को मिले। हिन्दू दिग्विजय सिंह के इस बयान का समर्थन करते हुए कांग्रेस को विजय दिलायेंगे। मुझे तो नहीं लगता। अब विरोधियों का यह कहना कि राहुल-सोनिया तथाकथित हिंदू हैं। दिग्गी साहब के कथन से तो सत्य साबित हो रहा है। जब हिन्दू कोई शब्द ही नहीं है तो राहुल गांधी हिंदू कैसे। अब कांग्रेस को कांग्रेस के नेताओं को ही सबुत पेश करने की आवश्यकता आन पड़ी है। ऐसे में यह बात शायद सही लग रहा है कि राहुल गांधी के राजनीतिक जीवन के अंत की सुपारी उनके कांग्रेसी नेताओं ने ले रखा है। ऐसे में उन्हें विपक्षी पार्टी भाजपा से कम अपने नेताओं से ज्यादा सचेत रहने की जरूरत नजर आ रही है।
संजय सिंह राजपूत
8919231773

sanjubagi5@gmail.com'

परिचय - संजय सिंह राजपूत

ग्राम : दादर, थाना : सिकंदरपुर जिला : बलिया, उत्तर प्रदेश संपर्क: 8125313307, 8919231773 Email- sanjubagi5@gmail.com