दादी का जन्मदिन

दादी-दादी, प्यारी दादी,
आज जन्मदिन आपका दादी,
आप भले ही भूल भी जाओ,
हम तो नहीं भूले हैं दादी.
कहां चलोगी घूमने दादी,
हम सब साथ चलेंगे दादी,
आता रहे जन्मदिन यों ही,
ढेरों बधाई प्यारी दादी.

परिचय - लीला तिवानी

लेखक/रचनाकार: लीला तिवानी। शिक्षा हिंदी में एम.ए., एम.एड.। कई वर्षों से हिंदी अध्यापन के पश्चात रिटायर्ड। दिल्ली राज्य स्तर पर तथा राष्ट्रीय स्तर पर दो शोधपत्र पुरस्कृत। हिंदी-सिंधी भाषा में पुस्तकें प्रकाशित। अनेक पत्र-पत्रिकाओं में नियमित रूप से रचनाएं प्रकाशित होती रहती हैं।