वास्तु

*वास्तु ओर आध्यात्मिक* में दोषों को दूर करने में पिरामिड एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है । वास्तु के दोषों या अन्य किसी भी समस्या को हम पिरामिड की सहायता से दूर कर सकते हैं । मिस्र के पिरामिड पूरे विश्व में जाने जाते हैं । कहते है उसमें जो मम्मियां रखी जाती समान के साथ तो वो सालों तक खराब नही होते कारण पिरामिड नुमा आकृति ।

*आज पिरामिड का उपयोग ……*

1. बुरी आदत को छुड़ाने में यह सहायक है । हमको जिसकी भी बुरी आदत को छुड़ाना है तो पिरामिड को वहाँ रखना है जहाँ वो व्यक्ति ज्यादा समय बीतता है । ध्यान रखें कि पिरामिड पर धूल या गन्दगी न जमा हो ।

2. हमारे परिवार के सदस्य लगातार बीमार रहते हो तो पिरामिड घर पर लाये जिससे नकारात्मक प्रभाव कम हो सकारात्मक ऊर्जा बढ़े ।

3.बच्चों का मन पढ़ाई में नही लग रहा हो तो पिरामिड को उनकी पढ़ने की टेबल पर रखे ताकि उनका ध्यान एक जगह केंद्रित हो

4. आज हमारे घरों में ज्यादातर भारी मशीनरी समान है जिससे नकारात्मक ऊर्जा लगातार निकलती है तो उस स्थान पर पिरामिड रखने से दोनों तरह की ऊर्जा में संतुलन बन जाता है ।

5. पिरामिड व्यवसायिक लाभ भी दिलवाने में सहायक है किसी भी ऑफिस, या फेक्ट्री के रिसेप्शन पर इसकी स्थापना की जाती है ।

6. ऑफिस के कर्मचारियों में सहयोग की भावना के लिए पिरामिड को ब्रह्म स्थान पर रख दिया जाता हैं।

7. आज घर हो या फ्लेट कोई भी वास्तुनुकूल नही बना होता है तो घर के अंदर ओर बाहर पिरामिड की स्थापना की जाती है । बाहर लगाने से नकारात्मक ऊर्जा अंदर नही आती और अंदर पिरामिड को छुपा कर रखना चाहिए ताकि किसी को नज़र नही आये ।

*आजकल विभिन्न प्रकार के पिरामिड उपलब्ध है जैसे जेम स्टोन, क्रिस्टल , ऐक्रेलिक, कॉपर, फाइबर आदि ।*

*सारिका औदिच्य*
*Vastu expert*
🔺🔺🔺🔺🔺🔺