संवेदनहीनता

दिसम्बर का महीना

कड़ाके की ठंड

फुटपाथ पर रहते

कुछ लोग

बड़े साहसी है…

आलीशान घरों मे

रज़ाई के भीतर

हीटर की गर्मी

नहीं बता सकती है

ठंड क्या होती है

क्या होता है संघर्ष

ये फुटपाथ

इनका भाग्य है

या हमारी संवेद्नहीनता

रोज़ सुबह सुबह

फुटपाथ का परिवार

चेहरे पर मुस्कुराहट लिए

जागता है

भले ही भाग्य सोया हो

बबलू की बड़ी बहन

ठंडे पानी से उसे नहलाती

रोते भाई को सहलाती

दाँतो की कड़कड़ाहट

पास खड़े स्मृद्ध लोगों का

स्वार्थपूर्ण जीवन

प्रभावित नहीं होता है

बबलू और उसकी बहन

और भी न जाने कितने

जी रहे हैं

अभाव से भरी ज़िंदगी

और हम…. व्यस्त हैं

अपने बच्चों को ठंड से बचाने में

परिचय - अर्जुन सिंह नेगी

नाम : अर्जुन सिंह नेगी पिता का नाम – श्री प्रताप सिंह नेगी जन्म तिथि : 25 मार्च 1987 शिक्षा : बी.ए., डिप्लोमा (सिविल इंजीनियरिंग), ग्रामीण विकास मे स्नातकोत्तर डिप्लोमा।l पेशा : एसजेवीएन लिमिटेड (भारत सरकार एवं हिमाचल प्रदेश सरकार का संयुक्त उपक्रम) में इंजीनियर के पद पर कार्यरत l लेखन की शुरुआत : सितम्बर, 2007 से (हिमप्रस्थ में प्रथम कविता प्रकाशित) l प्रकाशन का विवरण (समाचार पत्र व पत्रिकाएँ): दिव्य हिमाचल (समाचार पत्र), फोकस हिमाचल साप्ताहिक (मंडी,हि.प्र.), हिमाचल दस्तक (समाचार पत्र ), गिरिराज साप्ताहिक(शिमला), हिमप्रस्थ(शिमला), प्रगतिशील साहित्य (दिल्ली), एक नज़र (दिल्ली), एसजेवीएन(शिमला) की गृह राजभाषा पत्रिका “हिम शक्ति” जय विजय (दिल्ली), ककसाड, सुसंभाव्य, सृजन सरिता व स्थानीय पत्र- पत्रिकाओ मे समय- समय पर प्रकाशन, पार्वती प्रकाशन इंदौर से मई २०१६ में कविता का साँझा संग्रह 'महादेवी' प्रकशितl विधाएँ : कविता , लघुकथा , आलेख आदि प्रसारण : कवि सम्मेलनों में भागीदारी l स्थायी पता : गाँव व पत्रालय –नारायण निवास, कटगाँव तहसील – निचार, जिला – किन्नौर (हिमाचल प्रदेश) पिन – 172118 वर्तमान पता : निगमित सतर्कता विभाग , एसजेवीएन लिमिटेड, शक्ति सदन, शनान, शिमला , जिला – शिमला (हिमाचल प्रदेश) -171006 मोबाइल – 09418033874 ई - मेल :negiarjun1987@gmail.com