कहानी

लौट आओ अब

सुनो,….आज हमारे विवाह को 23 वर्ष पूरे होने आए ।इन तेईस वर्षों में हमने जाने कितने दुख सुख एक साथ देखे हैं ।बहुत से उतार- चढ़ाव जीवन मे सहे हैं । एक लंबा सफर एक साथ मिल कर तय किया । आज अकेली बैठी कल की ही बात सोच रही हूं ।कल शाम तुम रोज की […]

गीतिका/ग़ज़ल

ग़ज़ल

मुहब्बत  का हरदम  किया है उजाला। कभी भी  नहीं नफरतों  को  है  पाला। करे काम  बेजा वो  कितने भी लेकिन, न  उंगली   उठेगी   अगर  नाम  वाला। किया  काम  गन्दा  नहीं भी   किया है, सभी  शक  करेंगे  अगर  नाम  काला। कभी  माँग  इसकी  घटी  ही   नहीं  है, दुकां  प्यार  की  है   लगेगा   न  ताला। वो जिसको […]

विज्ञान

अपने वैज्ञानिकों की अद्भुत उपलब्धि

भारतीय अंतरिक्ष मिशन से जुड़े डी.आर.डी.ओ.के मेधावी वैज्ञानिक विरादरी और सम्पूर्ण देश के लिए 27 मार्च 2019 का दिन इतिहास में एक स्वर्णिम दिन के रूप में सदा के लिए अंकित हो गया है । हमारे वैज्ञानिकों की प्रतिभा का परचम दुनिया भर में इसलिए भी ज्यादा उज्जवल है क्योंकि ,जो उपलब्धि और सफलता हमारे […]

समाचार

मुकेश कुमार ऋषि वर्मा को मीडिया गौरव सम्मान

भिवानी | गुगनराम एजुकेशनल एण्ड सोशल वैलफेयर सोसायटी – हरियाणा, बोहल शोध मञ्जूषा (अन्तर्राष्ट्रीय शोध पत्रिका) व टांटिया विश्वविद्यालय – श्रीगंगानगर (राजस्थान) ने संयुक्त बैनर तले आर्यसमाज मंदिर सभागार – घंटाघर, भिवानी में एक अन्तर्राष्ट्रीय सम्मान समारोह का आयोजन किया | जिसमें जनपद आगरा निवासी मुकेश कुमार ऋषि वर्मा को उनकी कलम साधना के लिए […]

राजनीति

गांधी परिवार का मंदिर दर्शन बहुत बड़ा राजनैतिक स्टंट

2014 के लोकसभा चुनाव और उसके बाद विधानसभा चुनावों में एक के बाद एक मिली कई पराजयों के बाद कांग्रेस व गांधी परिवार को अपनी रणनीति बदलने पर विवश होना पड़ा है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी में काफी विचार विमर्श के बाद उदार हिंदुत्व का चेहरा बनने के लिए मंदिर-मंदिर जाने का नया […]

लघुकथा

पालतू श्वानों का हवाला

आज एक समाचार पढ़ा- ”नीरव मोदी की जमानत के लिए दिया गया उनके पालतू कुत्तों का हवाला. नीरव के वकील ने जज को बहुत सारे तर्क दिए ताकि उसे बेल मिल जाए. वकील ने कहा, उनका बेटा स्कूल में पढ़ता था जो अब यूनिवर्सिटी में गया है. मोदी के घर में पालतू श्वान भी हैं […]

गीतिका/ग़ज़ल

गजल

वक्त ये कटता नही इन्तजार का। खत तेरा आता नही इकरार का।। बस ख्यालों में तेरे यूं ही डूबी रहूं। अहसास होता रहे तेरे प्यार का।। तेरे मेरे बीच कोई आने न पाये। न हो फैसला कभी जीत हार का।। तन्हाई में तू मेरे साथ रहे हरपल। मजा लेती रहूं मैं तेरे दीदार का।। दौर […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

जो आवाम को पसंद हो वो बात करोगे मुफलिस की, तवंगर की मुदारात करोगे अच्छे से अब तो हम भी जानते हैं नेता जी तुम वोट के लिए जो करामात करोगे रंग बदलने का हुनर इतना है तुम में गिरगिट को भी आसानी से तुम मात करोगे इक बार कुर्सी मिलने की ही देर है […]

लघुकथा

पौधों से प्रेम

पौधों से प्रेम गीतिका को पेड़- पौधों से विशेष लगाव था| कोई बेवजह पौधों को नुकसान पहुंचाए उसे बेहद नागवार था |घर के सामने पार्क में गीतिका ने कई बडे पेड़ो के पौधे लगाये |ये सोंच के खुश होती की कभी ये पौधे घने छायादार बन जायेंगे और वायु को स्वच्छ बनायेगे| रोज सुबह शाम […]

कहानी

शिक्षा का महत्व

शिक्षा का महत्व सन्तोष ! मीना और अपने बच्चों के साथ खुश था किसी चीज की कोई कमीं नहीं थी |सन्तोष को जितना पढाई-लिखाई से प्यार था ,उसके बच्चे शिक्षा के प्रति उतने ही उदासीन थे इसलिये उसे अपने दोनों बच्चों के भविश्य की चिंता बनी रहतीथी | मीना पढने को कहती तो दोनो का […]