भगवान परशुराम की वन्दना

ॐ जय ऋषिवर परशुराम,जय ऋषिवर परशुराम।
विप्र जाति के रक्षक,सबके लीला धाम।।ॐ जय….
जमदाग्नि नन्दन हो,जग के पालनहार।
रेणुका से जन्में,किया शत्रु संहार।।ॐ जय…..
महादेव की भक्ति में,सब अर्पण किया।
बदले में शिवजी ने,परशु भेंट किया।।ॐ जय….
कल्प सूत्र के सृजनकर्ता, चिरंजीवी ब्रह्मचारी।
जन कल्याण करण हित, संहार कियो भारी।।ॐ जय…..
ईश भक्ति पितृ भक्ति,अरु वीरत्व गुण भारी।
शरण रहत ऋषिवर के,जग के नर नारी।।ॐ जय….
लम्बोदर के दंत उखाड़े,शिव दर्शन की ठानी।
अभयदान की याचना,पार्वती ने मानी।।ॐ जय….
कुरुक्षेत्र में जा कर,पितरों का तर्पण किया।
पितृ ऋण से मुक्त हो,जग कल्याण किया।।ॐ जय…..
परशुराम जी की वन्दना, जो कोई जन गावे।
पूज्य ऋषि की कृपा से,वांछित फल पावे।।ॐ जय…
— राजेश कुमार शर्मा “पुरोहित”

परिचय - राजेश पुरोहित

पिता का नाम - शिवनारायण शर्मा माता का नाम - चंद्रकला शर्मा जीवन संगिनी - अनिता शर्मा जन्म तिथि - 5 सितम्बर 1970 शिक्षा - एम ए हिंदी सम्प्रति अध्यापक रा उ मा वि सुलिया प्रकाशित कृतियां 1. आशीर्वाद 2. अभिलाषा 3. काव्यधारा सम्पादित काव्य संकलन राष्ट्रीय स्तर की पत्र पत्रिकाओं में सतत लेखन प्रकाशन सम्मान - 4 दर्ज़न से अधिक साहित्यिक सामाजिक संस्थाओं द्वारा सम्मानित अन्य रुचि - शाकाहार जीवदया नशामुक्ति हेतु प्रचार प्रसार पर्यावरण के क्षेत्र में कार्य किया संपर्क:- 98 पुरोहित कुटी श्रीराम कॉलोनी भवानीमंडी जिला झालावाड़ राजस्थान पिन 326502 मोबाइल 7073318074 Email 123rkpurohit@gmail.com