बदलते रिश्ते

बाहर बादल अनवरत बह रहे थे और खिड़की पर बैठी सुमि की आँखें भी उसी तीव्रता से बह रहीं थीं मानो बादलों से होड़ ले रही हों !

याद है उसे आज भी वो दिन, जब विक्रम ने उसे प्रपोज़ करते हुए कहा था – “एक अदद अच्छी सी जॉब और फिर इक सुन्दर कन्या से शादी… बस इतना सा ख्वाब है ! पूरा करोगी ना?” शरमा कर रह गयी थी सुमि !

लगभग दो वर्ष का लम्बा इंतज़ार… और आज विक्रम की शादी है, ग्रीन कार्ड होल्डर से ! आख़िरकार, कपड़ों से मिट्टी झाड़ने जैसा आसान जो हो गया है, रिश्तों से पल्ला झाड़ना !

अंजु गुप्ता

परिचय - अंजु गुप्ता

Am Self Employed Soft Skills Trainer with more than 23 years of rich experience in Education field. Hindi is my passion & English is my profession. Qualification: B.Com, PGDMM, MBA, MA (English), B.Ed