Monthly Archives: September 2019


  • ग़ज़ल

    ग़ज़ल

    हिंदी    है   मनभावन   गंगा, हिंदी   सुंदर   सावन   गंगा। हिंदी  भाषा अजर- अमर है, हिंदी  सदा सुहागन   गंगा।। हिंदी   सबकी  पावन  वाणी, संस्कारों   का  उपवन गंगा।। एक    सूत्र    में  बाँधे  हिंदी, ज्यों  बहती है ...

  • हाथों की लकीरें

    हाथों की लकीरें

    कौन कहता है कि सब कुछ लिखा होता है हाथों की लकीरों पर। रिक्त होती है हाथों की सभी लकीरें बिल्कुल किसी नये अभ्यास पुस्तिका की लकीरों की तरह। जिन लकीरों पर हम लिख सकते हैं...


  • मन निर्मल

    मन निर्मल

    प्रथम वर्षा पर बहुत गंदा था पानी कचरा – मिट्टी  , गंदगी समेटे बिल्कुल भूरे रंग में । बह रहा था पर  , धीरे – धीरे प्रतिपल , प्रतिदिन छनता गया पानी और निर्मल हो गया...



  • हिंदी दिवस पर शिक्षकों का सम्मान

    हिंदी दिवस पर शिक्षकों का सम्मान

    लखीमपुर खीरी। रंगोली हिंदी साहित्यिक संस्था एवं श्याम सौभाग्य फाउंडेशन तथा राहुल ट्यूब कंपनी कानपुर के संयुक्त तत्वावधान में अखिल भारतीय शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन पंडित दीनदयाल उपाध्याय विद्या मंदिर इंटर कॉलेज गोला रोड लखीमपुर...


  • विशेष सदाबहार कैलेंडर-140

    विशेष सदाबहार कैलेंडर-140

    हमारे दो ब्लॉगर साथियों के जन्मदिन पर विशेष 1. दुआ है कामयाबी की हर शिखर पर आपका नाम होगा, कदम-कदम पर दुनिया का सलाम होगा, हिम्मत से हर मुश्किल का सामना करना, बस दुआ है हमारी...