प्याज के अच्छे दिन आए

प्याज बेचारी क्या करे, लोग करें बदनाम
‘महबूबा’-सा किया है गोडाउन में जाम
गोडाउन में जाम, मचा कोहराम देखिए
सपनों मे अब यही आ रही राम देखिए
कह सुरेश कल थी सड़कों पर मारी-मारी
तरकारी की ताज बनी अब प्याज बेचारी ।।

— सुरेश मिश्र

परिचय - सुरेश मिश्र

हास्य कवि