धर्म-संस्कृति-अध्यात्म

सतरंगी समाचार कुञ्ज-13

आप लोग जानते ही हैं, कि ‘सतरंगी समाचार कुञ्ज’ में सात रंगों के समाचार हम लिखते हैं, शेष रंगों के समाचार कामेंट्स में आपकी-हमारी लेखनी से लिखे जाएंगे. आइए देखते हैं इस कड़ी के सात रंग के समाचार-

1.एक खोज ऐसी भी-
खोज / मेंढ़क के स्टेम सेल से दुनिया का पहला हीलिंग रोबोट बनाया, ये कैंसर के इलाज में मददगार
वैज्ञानिकों ने मेंढ़क के स्टेम सेल से दुनिया का पहला लीविंग और सेल्फ हीलिंग रोबोट बनाया है। इसमें अफ्रीका के पंजे वाले मेंढक का स्टेम सेल इस्तेमाल किया गया है। यह आकार में एक मिलीमीटर (0.004 इंच) से भी कम है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, यह रोबोट मानव शरीर में आसानी से चल और तैर सकता है। इसके अलावा, कई हफ्तों तक बिना फूड के जिंदा रह सकता है और समूह में एक साथ काम भी कर सकता है।

इस सूक्ष्म रोबोट का उपयोग कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करने या समुद्र से माइक्रोप्लास्टिक्स को हटाने के लिए किया जा सकता है। वर्मोंट यूनिवर्सिटी ने बताया कि यह पूरी तरह से नए जीवन का रूप है। यह शोध वर्मोंट यूनिवर्सिटी ने टफ्ट्स यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर किया है। इसका नाम ‘जेनोबोट्स’ रखा गया है।

2.बात हेल्थ की-
हेल्थ / फिलीपींस के व्यक्ति ने वीडियो गेम खेलकर एक महीने में 9 किलो वजन कम किया
फिलीपींस में रहने वाले एक लड़के ने दावा किया है कि वीडियो गेम खेलने से उसका वजन एक महीने में 9 किलो (20 पाउंड) तक कम हुआ है। ग्राफिक आर्टिस्ट मिगुई गेब्रिएल ने फेसबुक पर अपनी वीडियो गेम खेलने से पहले और एक महीने बाद वाली तस्वीर भी पोस्ट की है।

मिगुई की मानें तो निनटेंडो की नई वीडियो गेम रिंग फिट एडवेंचर से वह अपना वजन घटाने में सफल रहा है। दरअसल, यह गेम इस तरह डिजाइन की गई है कि इसे खेलते वक्त प्लेयर घंटों एक जगह बैठे रहने की बजाय इधर- उधर घूमता है। घूमने के वक्त भी उसे ऐसे स्टेप्स दिए जाते हैं, जिससे उसकी एक्सरसाइज भी हो जाती है। मिगुई को इसका फायदा मिला। मिगुई इससे पहले कई बार वजन कम करने की कोशिश कर चुका था मगर सफलता नहीं मिली। इस बार जब गेम खेलते हुए एक्सरसाइज होती गई तो उसने भी शाम सात बजे के बाद खाना खाना बंद कर दिया और डाइट से कार्बोहाइड्रेट्स कम कर दिए। इसमें यूजर गेम खेलते हुए एक्टिविटी के साथ-साथ एक्शन करता रहता है.

3.एक स्कूल बंक ऐसा भी!
महाराष्ट्र / स्कूल बंक कर 85 बच्चों ने गांव की 10 किमी सड़क सुधारी, ताकि पैदल न चलना पड़े
महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में डभड़ी गांव की 10 किलोमीटर की खराब सड़क को स्कूल के 85 बच्चों ने वाहनों के चलने लायक बना दिया। सड़क पर अधूरे निर्माण की वजह से जगह-जगह पत्थर फैले थे। जिससे लोगों को चलने में दिक्कत होती थी। बच्चों ने 10 जनवरी को स्कूल बंक किया। इसके बाद सड़क में फैले पत्थरों को हटाया और गड्ढे भरे।

एक ग्रामीण ने मंगलवार को दावा किया कि प्रशासन ने पिछले साल दिसंबर में धमनगांव राजौर खंड पर सड़क निर्माण कार्य अधूरा छोड़ दिया था। इस वजह से बदनपुर डिपो से राज्य परिवहन बस ने अपनी सेवा एक महीने से अधिक समय के लिए रोक दी थी।। बस सर्विस नहीं होने से छात्रों को धमनगांव से डभड़ी गांव के स्कूल पहुंचने के लिए रोजाना 10 किलोमीटर पैदल चलना पड़ता था। इसमें करीब दो घंटे का वक्त लगता था। वे रोज-रोज की इस समस्या से परेशान हो गए थे।

4.शाबाश!
कश्मीर / 100 जवानों ने 4 घंटे बर्फ में चलकर गर्भवती को अस्पताल पहुंचाया, मोदी ने कहा- मां-बेटी स्वस्थ रहें
कमर तक बर्फीले रास्ते में चलकर सेना के 100 जवानों और 30 नागरिकों ने मंगलवार को मिलकर एक गर्भवती को सुरक्षित अस्पताल पहुंचाया। भारी बर्फबारी के बीच जवानों ने यह साहस और जज्बा दिखाया। दरअसल, गर्भवती शमीमा को प्रसव का दर्द शुरू हो गया। ऐसे में लोगों ने सेना को मदद के लिए बुलाया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गर्भवती महिला को अस्पताल तक पहुंचाना वाला चिनार कॉर्प्स का वीडियो रीट्वीट किया है। उन्होंने लिखा, ‘‘जब भी लोगों को मदद की जरूरत पड़ी, सेना ने उस मौके पर आगे बढ़कर जो भी संभव हो सका वह किया। मैं बच्चे और मां के अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूं।’’

5.इतने हीट! कैसे होगी बीट?
रिसर्च / 25 साल में 3.6 अरब परमाणु बमों की ऊष्मा समुद्रों में घुली, इसकी दर हर सेकंड 5 परमाणु बम जितनी
एडवांसेज इन एटमॉस्फेरिक साइंसेज जर्नल में सोमवार को प्रकाशित अध्ययन के मुताबिक, पिछले 25 साल में 3.6 अरब परमाणु बम से उत्पन्न हीट जितनी ऊष्मा (गर्मी) महासागरों में घुल गई है। पानी में हर सेकंड 5 (हिरोशिमा पर गिराए गए) परमाणु बम गिराए जाने जितनी ऊष्मा घुल रही है। इस ऊष्मा से समुद्र गर्म हो रहे हैं। 14 वैज्ञानिकों की एक टीम 1950 के दशक से समुद्रों के तापमान का अध्ययन कर रही है। टीम ने 2000 मीटर की गहराई तक तापमान की बढ़ोतरी का अध्ययन किया है।

शोध के मुताबिक, 2019 में समुद्रों ने 90% ऐसी ऊष्मा को अवशोषित किया जो कि ग्रीन हाउस गैसों, पेट्रोलियम पदार्थों के जलने और जंगल में लगी आग से निकली थी। इससे समुद्रों का तापमान रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया। शोध में बीते 10 सालों को गर्म साल माना गया। इनमें 5 साल समुद्रों के अब तक के सबसे गर्म सालों में दर्ज किए गए। यह ऊष्मा धरती के प्रत्येक व्यक्ति द्वारा दिन-रात 100 माइक्रोवेव अवन के चलाने जितनी भी कही जा सकती है।

6.ऐसे भी जान बचाई जा सकती है!
अमेरिका / ऑनलाइन गेमर दोस्त ने की मदद, 8000 किलोमीटर दूर इंग्लैंड में बैठे किशोर की जान बचाई
ग्लैंड में एक 17 साल के लड़के की जान सिर्फ इसलिए बच गई, क्योंकि उसके साथ करीब 8000 किलोमीटर दूर अमेरिका से ऑनलाइन गेम खेल रही दोस्त ने समय पर इमरजेंसी सेवा को उसके बारे में जानकारी दे दी।

दरअसल, सोमवार को इंग्लैंड के विडनेस में रहने वाला ऐडान जैक्सन इस माह के शुरू में रात को अपने बेडरूम में ऑनलाइन वीडियो गेम खेल रहा था। उसके माता-पिता नीचे के कमरे में टेलीविजन देख रहे थे। उसके साथ दूसरी ओर अमेरिका के टेक्सास में रहने वाली 20 साल की दिया लाथोरा थी। दिया ने अचानक महसूस किया कि जैक्सन कुछ बोल नहीं रहा है। जो कुछ वह सुन पा रही थी, उससे ऐसा लग रहा था कि जैक्सन को दौरा पड़ा है। उसने अपने दोस्त से पूछा कि क्या वह ठीक है, उसने कोई जवाब नहीं दिया।

दिया ने आपातकालीन नंबर तलाशा और सूचना दी

दिया ने तुरंत ही इंग्लैंड के शहर का आपातकालीन नंबर तलाशना शुरू किया। उसे नॉन इमरजेंसी पुलिस का नंबर मिल गया। उसने खुद को संयत रखते हुए फोन उठाने वाले को बताया कि वह अमेरिका से बोल रही है और अपने दोस्त की मदद करना चाहती है। इसके कुछ देर बाद ही इमरजेंसी पैरामेडिकल टीम जैक्सन की गली में पहुंच गई। उसके माता-पिता ने सोचा की यह टीम गलत पते पर आ गई है। ऐडान को दिल का दौरा पड़ा था.

7.एक परिक्रमा ऐसी भी!
नासा / ऑस्ट्रेलिया के जंगलों की आग का धुआं पृथ्वी का पूरा चक्कर लगाएगा, यह दक्षिण अमेरिका तक पहुंचा
ऑस्ट्रेलियाई जंगलों में लगी आग से निकला धुआं पूरी पृथ्वी का 40 हजार 75 किलोमीटर का चक्कर लगाएगा। अब तक पृथ्वी का आधा हिस्सा कवर कर चुका है। नासा के वैज्ञानिक इसे सैटेलाइट से ट्रैक कर रहे हैं। यह तस्मान सागर और प्रशांत महासागर को पार कर आगे की ओर बढ़ रहा है। ऑस्ट्रेलिया के जंगलों की आग से अब तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है। करीब 2000 से ज्यादा घर पूरी तरह से बर्बाद हो चुके हैं।
नासा के मुताबिक, 8 जनवरी तक धुएं ने 11 हजार किलोमीटर की दूरी तय कर ली थी। यह न्यूजीलैंड के तटीय इलाके को छोड़कर दक्षिण अमेरिका के नजदीक पहुंच चुका है। ऑस्ट्रेलिया में पिछले साल सितंबर में जंगलों में आग लगी थी। इसके बाद सिडनी, मेलबोर्न, एडिलेड और कैनबरा मोटे धुएं से ढंक चुका था। साथ ही न्यूजीलैंड तक पहुंच गया था।

कुछ फटाफट सुर्खियां-
1.ऑस्ट्रेलिया: जंगल की आग में फंसे जानवरों को बचाते हैं 2 लड़के, वायरल हुआ विडियो
2.ऑस्ट्रेलिया आग: फायर फाइटर पिता की गई जान, 20 महीने की बेटी ने ऐसे कहा Good Bye

3.छह फीट से भी लंबे हुए बाल, गुजरात की निलांशी ने तोड़ा अपना ही वर्ल्ड रेकॉर्ड

4.एजाज लकड़ावाला: जेब में पड़े सिक्के ने बचाई डॉन की जान

5.विडियो: स्नो स्लाइड के बाद बर्फ में दबे कश्मीरी नागरिक को सेना के जवानों ने बचाया

6.फिरोजाबाद: हिंसा के बीच इंसानियत की मिसाल, पुलिसकर्मी को भीड़ से बचाने पहुंचा ‘फरिश्ता’

7.मिलिए मयूरभंज के ‘बर्डमैन’ ट्रैफिक पुलिस अफसर से…जिनका परिंदे करते हैं इंतजार

आशा है आपको सतरंगी समाचार की यह कड़ी भी पसंद आई होगी. आप भी कामेंट्स में विभिन्न रंगों के ऐसे अनोखे-रोचक-जागरूकता से ओतप्रोत सकारात्मक समाचार लिख सकते हैं.

परिचय - लीला तिवानी

लेखक/रचनाकार: लीला तिवानी। शिक्षा हिंदी में एम.ए., एम.एड.। कई वर्षों से हिंदी अध्यापन के पश्चात रिटायर्ड। दिल्ली राज्य स्तर पर तथा राष्ट्रीय स्तर पर दो शोधपत्र पुरस्कृत। हिंदी-सिंधी भाषा में पुस्तकें प्रकाशित। अनेक पत्र-पत्रिकाओं में नियमित रूप से रचनाएं प्रकाशित होती रहती हैं।

One thought on “सतरंगी समाचार कुञ्ज-13

  1. युगांडा / इमाम ने जिससे शादी की वह पुरुष निकला, चोरी के आरोपों पर दो हफ्ते बाद खुलासा

    युगांडा की एक मस्जिद के 27 साल के इमाम को उस समय झटका लगा, जब उन्हें पता चला कि दो हफ्ते पहले उन्होंने जिससे निकाह किया है, वह महिला नहीं पुरुष है। इसका खुलासा पड़ोसी के आरोपों के बाद हुआ। इसके बाद मस्जिद के इमाम पद से उसे निलंबित कर दिया गया।

    इमाम शेख मोहम्मद मटूंबा ने हाल ही नबूकीरा नाम की एक महिला से दिसंबर में शादी का प्रस्ताव रखा था, जिससे उसने स्वीकार्य कर लिया था। इमाम ने दुल्हन बने व्यक्ति की कथित मौसी को मेहर की रकम में चीनी के दो बैग, दो बकरियां और कपड़े भी दिए थे।

Leave a Reply