कविता

कह* *मुकरी* *छंद*

आसमां से तारे लाती
सबका दिल शीतल कर देती
उसके बिन सुना जग सारा
ए सखि साजन?ना सखि माता।

परिचय - बिजया लक्ष्मी

बिजया लक्ष्मी (स्नातकोत्तर छात्रा) पता -चेनारी रोहतास सासाराम बिहार।

Leave a Reply