शिशुगीत

जरूरी है

कोरोना और लॉकडाउन के चलते,
अनुशासन का पालन करना जरूरी है,
घर की सीमा में सुरक्षित रहना जरूरी है,
बिना जरूरत के घर से बाहर न निकलना जरूरी है,
दो गज दूरी रखना जरूरी है,
मास्क लगाना जरूरी है,
हाथों को सेनेटाइज करना जरूरी है,
एक दूसरे का हालचाल पूछना जरूरी है,
जरूरतमंदों की मदद करना जरूरी है,
किसी भी तरह के नशे से दूर रहना जरूरी है.
नशा नाश का कारण है,
सबको यह बताना जरूरी है.

परिचय - लीला तिवानी

लेखक/रचनाकार: लीला तिवानी। शिक्षा हिंदी में एम.ए., एम.एड.। कई वर्षों से हिंदी अध्यापन के पश्चात रिटायर्ड। दिल्ली राज्य स्तर पर तथा राष्ट्रीय स्तर पर दो शोधपत्र पुरस्कृत। हिंदी-सिंधी भाषा में पुस्तकें प्रकाशित। अनेक पत्र-पत्रिकाओं में नियमित रूप से रचनाएं प्रकाशित होती रहती हैं।

2 thoughts on “जरूरी है

  1. नमस्ते बहिन जी। आपकी कविता अच्छी व उपयोगी है। थोड़े से शब्दों में आपने कोरोना से बचाव के सभी उपाय बता दिये हैं। आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

    1. प्रिय मनमोहन भाई जी, रचना पसंद करने, सार्थक व प्रोत्साहक प्रतिक्रिया करके उत्साहवर्द्धन के लिए आपका हार्दिक अभिनंदन. बड़ों के लिए तो हम बड़ी-बड़ी बातें लिखते हैं, पर बच्चों के लिए सरल भाषा में हमें सूत्र रूप में जरूरी बातें लिखनी होती हैं, ताकि बच्चे इनको आसानी से कंठस्थ भी कर सकें और ह्रदयंगम भी कर सकें. आपको हमारा प्रयास पसंद आया, हम अनुगृहीत हुए.

Leave a Reply