बोधकथा

मिस छिल्लर

हरियाणा से ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान शुरू हुई थी और सोनीपत, हरियाणा की 20 वर्षीया मेडिकल छात्रा मानुषी छिल्लर मिस हरियाणा, मिस इंडिया से भी आगे बढ़ 2017 की ‘मिस वर्ल्ड’ बन गयी।

भारत की पहली डॉक्टर, जो महिला की ‘माहवारी चिकित्सा’ से आगे बढ़ अपनी सुंदरता की भी परचम पूरे संसार में लहराई । ऐश्वर्य राय, प्रियंका चोपड़ा आदि सहित 5 भारतीय मिस वर्ल्ड के बाद 2017 में 17 साल बाद भारत की इस युवती का विश्व सुंदरी बनना ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान के फ़्रेम को दस्तक देती प्रतीत हो रही है।

इस सौंदर्य प्रतियोगिता के इंटरव्यू में उनसे पूछी गई कि किस पद को सर्वाधिक वेतन मिलना चाहिए, उन्होंने एक शब्द में उत्तर दी– ‘माँ ! किन्तु यह पद निःस्वार्थ भाव से सेवा करती है और उनकी सेवा किसी भी वेतन से परे होती है ! उन्हें केश नहीं, सम्मान और प्यार चाहिए।’

परिचय - डॉ. सदानंद पॉल

तीन विषयों में एम.ए., नेट उत्तीर्ण, जे.आर.एफ. (MoC), मानद डॉक्टरेट. 'वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' लिए गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स होल्डर, लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स होल्डर, इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, RHR-UK, तेलुगु बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, बिहार बुक ऑफ रिकॉर्ड्स होल्डर सहित सर्वाधिक 300+ रिकॉर्ड्स हेतु नाम दर्ज. राष्ट्रपति के प्रसंगश: 'नेशनल अवार्ड' प्राप्तकर्त्ता. पुस्तक- गणित डायरी, पूर्वांचल की लोकगाथा गोपीचंद, लव इन डार्विन सहित 10,000+ रचनाएँ और पत्र प्रकाशित. भारत के सबसे युवा संपादक. 500+ सरकारी स्तर की परीक्षाओं में क्वालीफाई. पद्म अवार्ड के लिए सर्वाधिक बार नामांकित. कई जनजागरूकता मुहिम में भागीदारी.

Leave a Reply