कविता

भारत हमारा विश्व में महान है

भारत हमारा विश्व में महान है
देव देते “अवतरण”का सम्मान है
बर्फ से लदी हिमालय की चोटियां
फूलों से लदी मनमोहक घाटियाँ
आंखों के सुख का सामान है
भारत हमारा विश्व में महान है
वेदों की गुंजार यहां गंगा की धार है
रामायण गीता देती जीवन का सार है
धर्म अर्थ काम मोक्ष में होता उत्थान है
भारत हमारा विश्व में महान है
बोली भाषा धर्म अनेक हमारे
आत्मा से एक मां भारती के प्यारे
भले वेशभूषा अलग भले खानपान है
भारत हमारा विश्व में महान है
आजादी का जश्न चलो आज हम मनायें
प्रान देने वाले शहीदों को शीश झुकायें
अपनी सभ्यता सांस्कृति का करें सम्मान है
हमारा विश्व में महान है
— सुनीता द्विवेदी 

परिचय - सुनीता द्विवेदी

होम मेकर हूं हिन्दी व आंग्ल विषय में परास्नातक हूं बी.एड हूं कविताएं लिखने का शौक है रहस्यवादी काव्य में दिलचस्पी है मुझे किताबें पढ़ना और घूमने का शौक है पिता का नाम : सुरेश कुमार शुक्ला जिला : कानपुर प्रदेश : उत्तर प्रदेश

Leave a Reply