इतिहास

पूर्ण उत्तर है सावरकर ?

इंदिरा गाँधी खुद भारतरत्न ले सकती है, फिर आपात लगाने के बाद भी इंदिरा गाँधी ‘भारतरत्न’ खुद में लगाए रख सकती है, तो माननीय कोर्ट ने जिन्हें दोषमुक्त माना, उस वीर दामोदर सावरकर को भारतरत्न क्यों नहीं मिल सकती ?

महान हिन्दू विचारक और इतिहासकार सावरकर ने ही तो पहलीबार 1857 की लड़ाई को भारत की प्रथम स्वतंत्रता आंदोलन कहा था…. कोई कालेपानी में ताउम्र व्यतीत कर दे, यह कोई त्याग की बात नहीं है ! अगर सावरकर महोदय में प्रतिभा है, जिसे ओमप्रकाश महोदय ने स्वीकारे, तो कालेपानी से बाहर निकलने की जुगत गलत कहाँ हुआ ?

क्या अभी चिदम्बरम साहब तिहाड़ से निकलने के लिए कोर्ट में जमानत की अर्ज़ी नहीं दे रहे हैं क्या ? ओमप्रकाश महोदय, आप ‘लालरेखा’ उपन्यास पढ़िये, सिर्फ सच्चाई के सहारे देश आजाद नहीं हुआ है, इनमें साम, दाम…. लिए कूट-व्यायाम भी हुए हैं !

कोई कालेपानी में ताउम्र व्यतीत कर दे, यह कोई त्याग की बात नहीं है ! अगर सावरकर महोदय में प्रतिभा है, जिसे ओमप्रकाश महोदय ने स्वीकारे, तो कालेपानी से बाहर निकलने की जुगत गलत कहाँ हुआ ? क्या अभी चिदम्बरम साहब तिहाड़ से निकलने के लिए कोर्ट में जमानत की अर्ज़ी नहीं दे रहे हैं क्या ?

ओमप्रकाश महोदय, आप ‘लालरेखा’ उपन्यास पढ़िये, सिर्फ सच्चाई के सहारे देश आजाद नहीं हुआ है, इनमें साम, दाम…. लिए कूट-व्यायाम भी हुए हैं !

परिचय - डॉ. सदानंद पॉल

तीन विषयों में एम.ए., नेट उत्तीर्ण, जे.आर.एफ. (MoC), मानद डॉक्टरेट. 'वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' लिए गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स होल्डर, लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स होल्डर, इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, RHR-UK, तेलुगु बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, बिहार बुक ऑफ रिकॉर्ड्स होल्डर सहित सर्वाधिक 300+ रिकॉर्ड्स हेतु नाम दर्ज. राष्ट्रपति के प्रसंगश: 'नेशनल अवार्ड' प्राप्तकर्त्ता. पुस्तक- गणित डायरी, पूर्वांचल की लोकगाथा गोपीचंद, लव इन डार्विन सहित 10,000+ रचनाएँ और पत्र प्रकाशित. भारत के सबसे युवा संपादक. 500+ सरकारी स्तर की परीक्षाओं में क्वालीफाई. पद्म अवार्ड के लिए सर्वाधिक बार नामांकित. कई जनजागरूकता मुहिम में भागीदारी.

Leave a Reply