राजनीति

व्यथित लोकतंत्र….

बधाई, राहुल जी ! परंतु बचकानी हिंदी से बचते हुए उचकानी हिंदी में आइये । आपने लालू जी को फिर MP बनने नहीं दिए और विधेयक को फाड़ डाले ।

वहीं अय्यर के मणि (विष) को शंकर तक ले चले गए… ये दम तो दिखाया आपने, किन्तु 2019 क्या 2024 तक तो चट्टान है आपके आगे, आप पत्थर हैं, चट्टान के सामने टिक नहीं पाएंगे !

अपने पार्टी को भ्रष्टाचारमुक्त तो कीजिये, राहुल जी ! हाँ, कथित ब्राह्मण बन जनेऊ धारण कर विदेश प्रवास चले जाने पर भारत का क्या भला होगा, इसलिए व्यथित शूद्र बनिये, राहुल जी । …. हाँ, शेष को लेकर आपके भविष्य के लिए शुभमंगलकामनाएँ !

संभालिये खानदानी पद को, क्योंकि लोकतंत्र गायब होते जा रहा, आपके यहाँ ! क्योंकि 6ठा कांग्रेस अध्यक्ष भए आप अपने खानदान से…… जय हो, राहुल बाबा !

परिचय - डॉ. सदानंद पॉल

तीन विषयों में एम.ए., नेट उत्तीर्ण, जे.आर.एफ. (MoC), मानद डॉक्टरेट. 'वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' लिए गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स होल्डर, लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स होल्डर, इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, RHR-UK, तेलुगु बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, बिहार बुक ऑफ रिकॉर्ड्स होल्डर सहित सर्वाधिक 300+ रिकॉर्ड्स हेतु नाम दर्ज. राष्ट्रपति के प्रसंगश: 'नेशनल अवार्ड' प्राप्तकर्त्ता. पुस्तक- गणित डायरी, पूर्वांचल की लोकगाथा गोपीचंद, लव इन डार्विन सहित 10,000+ रचनाएँ और पत्र प्रकाशित. भारत के सबसे युवा संपादक. 500+ सरकारी स्तर की परीक्षाओं में क्वालीफाई. पद्म अवार्ड के लिए सर्वाधिक बार नामांकित. कई जनजागरूकता मुहिम में भागीदारी.

Leave a Reply