इतिहास

रीढ़, हृदय और आत्मा

दादा साहब फाल्के पुरस्कार सहित पद्म भूषण से सम्मानित 79 वर्षीय महान वॉलीवुड अभिनेता शशि कपूर कुछ वर्ष पहले 4 दिसम्बर को इस पार्थव्य दुनिया से कूच कर गये।

हिंदी फिल्म ‘दीवार’ में 74 वर्षीय महान शताब्दी अभिनेता अमिताभ बच्चन उनके बड़े भाई की भूमिका में थे, जब श्री बच्चन ने कहा– ‘मेरे पास गाड़ी है, बंगला है…. तुम्हारे पास क्या है ?’

छोटा भाई बने शशि कपूर, जो ईमानदार पुलिस ऑफिसर के रोल में थे, सिर्फ़ इतना कहा- ‘मेरे पास माँ है’। …. और यह संवाद आज भी ‘लीजेंड’ संवाद बन दिलस्पर्शी बना हुआ है।

●●

7 दिसम्बर को हर भारतीय प्रति वर्ष ‘सशस्त्र सेना झंडा दिवस’ मनाते आ रहे हैं । वैसे घोड़े, शिक्षक और सैनिक कभी रिटायर्ड नहीं होते हैं, तथापि शहीद सैनिकों के परिवार को आर्थिक सहयोग देने के उद्देश्य से ऐसे दिवस पर सरकारी स्तर के शहीद और भूतपूर्व सैनिक कोष में उदारतापूर्वक दान कर अपनी अभूतपूर्व कर्मण्यता का परिचय दीजिये ।

मैंने भी किया है और मेरे परिवारवाले भी । क्या आपने और आपके परिवार के अन्य सदस्य भी ऐसा किये हैं, नहीं तो सोचिये मत ? पिछले ‘मन की बात’ में माननीय प्रधानमंत्री जी ने भी इस संबंध में आह्वान किये थे । सैनिक बंधु तो हम भारतीयों के रीढ़, हृदय और आत्मा हैं।

परिचय - डॉ. सदानंद पॉल

तीन विषयों में एम.ए., नेट उत्तीर्ण, जे.आर.एफ. (MoC), मानद डॉक्टरेट. 'वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' लिए गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स होल्डर, लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स होल्डर, इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, RHR-UK, तेलुगु बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, बिहार बुक ऑफ रिकॉर्ड्स होल्डर सहित सर्वाधिक 300+ रिकॉर्ड्स हेतु नाम दर्ज. राष्ट्रपति के प्रसंगश: 'नेशनल अवार्ड' प्राप्तकर्त्ता. पुस्तक- गणित डायरी, पूर्वांचल की लोकगाथा गोपीचंद, लव इन डार्विन सहित 10,000+ रचनाएँ और पत्र प्रकाशित. भारत के सबसे युवा संपादक. 500+ सरकारी स्तर की परीक्षाओं में क्वालीफाई. पद्म अवार्ड के लिए सर्वाधिक बार नामांकित. कई जनजागरूकता मुहिम में भागीदारी.

Leave a Reply