समाचार

युवा साहित्यकार विजय विभोर सम्मानित

रोहतक में आज राष्ट्रीय युवा दिवस एवं राष्ट्र के महान युवा संत स्वामी विवेकानंद जी की 158वीं जयंती युवा दिवस के शुभ अवसर पर श्रीमद् शंकर स्वामी विश्व देवानंद तीर्थ धर्मार्थ ट्रस्ट एवं प्रज्ञा साहित्यिक मंच के संयुक्त प्रयास से युवा साहित्यकारों को सम्मानित किया गया। इसमें डॉ० गोपाल कृष्ण आजाद , डॉ० मंजू बाला , डॉ० अनूप बंसल मधुकांत , मुख्यातिथि प्रोफेसर अंजना गर्ग जी ने युवा साहित्यकारों को सम्मान पत्र , शाल एवं डॉ० मधुकांत द्वारा रचित उपन्यास गुगलबॉय के द्वारा उनकी रचनाओं के लिए सम्मानित किया गया तथा मुख्यातिथि ने प्रोग्राम की भूरी – भूरी प्रशंसा की। यह कार्यक्रम युवा साहित्यकारों को प्रेरित करेगा कि वे अपनी रचनाओं के द्वारा समाज के युवा वर्ग की दशा व दिशा बदलेंगे। इस अवसर पर राजेन्द्र शर्मा जी को उम्दा मंच संचालन के लिए सम्मानित किया गया। युवा साहित्यकारों में डॉक्टर चंद्रदत्त शर्मा , श्री विजय विभोर ,श्री नवलपाल प्रभाकर, श्री पवन मित्तल , प्रो० पुष्पा ,डॉ० कपिल कौशिक , श्री नीरज रतन बंसल , डॉ० आशुतोष कौशिक , श्री अंकुर आनंद , श्री अशोक बरोदा , श्री पवन गहलोत , श्री बृजकिशोर प्रजापति , एवं नेहा गुप्ता को सम्मानित किया गया। प्रसिद्ध समाजसेवी श्री जगत सिंह गिल , देवेन्द्र चौहान , नीरज कुमार , सरला देवी आदि गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में ट्रस्ट की ज्वाइंट सेक्रेटरी चांदनी सावर्ण ने मधुर क॔ठ से सभी श्रोताओं पर एक अमिट प्रभाव छोड़ा। ट्रस्ट की सचिव हिमानी सावर्ण ने बताया कि एक महान युवा स॔त विचारक की जयंती पर युवा साहित्यकारों को सम्मानित करना समाज के युवाओं को उनके द्वारा रचित संस्कारों को प्रेरित करता है। ट्रस्ट समय-समय पर राष्ट्र के प्रति अपने उत्तरदायित्व निष्ठा पूर्वक निभाता आया है। इससे पूर्व वृद्ध साहित्यकारों को भी सम्मानित कर चुका है। आगे भी ट्रस्ट समाज का दर्पण बनकर उभरेगा।

— पवन मित्तल

परिचय - विजय 'विभोर'

मूल नाम - विजय बाल्याण मोबाइल 9017121323, 9254121323 e-mail : vibhorvijayji@gmail.com

Leave a Reply