हाइकु/सेदोका

“हाइकु”

चुनावी जोश
खोता जा रहा होश
है अफसोस।।-1

नेता जी आए
वादे गुनगुनाए
क्या मन भाए।।-2

फ्री का राशन
इतराए शाशन
भरा वासन।।-3

हिंदू हिंदुत्व
जानी मानी आकृत
छद्मि प्रवृत्ति।।-4

वोट के लाले
मतलबी निवाले
हैं दिलवाले।।-5

महातम मिश्र “गौतम” गोरखपुरी

Leave a Reply