बाल कविता शिशुगीत

गौतम बुद्ध

बौद्ध धर्म के संस्थापक थे गौतम बुद्ध,
प्रेम और शांति का अवतार थे गौतम बुद्ध.
ज्ञान का प्रकाश थे गौतम बुद्ध,
सत्य-अहिंसा के प्रचारक थे गौतम बुद्ध.
अच्छी सोच के धारक थे गौतम बुद्ध,
क्रोध के संहारक थे गौतम बुद्ध.
गौतम बुद्ध की शिक्षाओं पर चल,
कहला सकते तुम भी गौतम बुद्ध.

One thought on “गौतम बुद्ध

  1. आज गौतम बुद्ध की जयंती है और उनका निर्वाण दिवस भी। इनके कठोर तप के उपरांत वैशाख पूर्णिमा के दिन ही बोधगया में बोधि वृक्ष के नीचे उन्हें बुद्धत्व ज्ञान की प्राप्ति हुई। इसी कारण बिहार स्थित बोध गया नामक स्थान हिन्दू व बौद्ध धर्मावलंबियों के पवित्र तीर्थ स्थान हैं। एक ही दिवस पर जन्म भी, बुद्धत्व ज्ञान की प्राप्ति भी और निर्वाण भी. ऐसा संयोग अति दुर्लभ होता है. आप सभी को बुद्ध पूर्णिमा की हार्दिक शुभकामनाएं.

Comments are closed.