कविता

जोरू का गुलाम

मात पिता की सेवा ना कर जोरू की बाहों में सो गया ! बेकार है तेरा जीवन तू तो जोरू का गुलाम हो गया ! जोरू कहे तो हां में हां मां बाप कहे तो ना करते हो ! मां बाप से अपने डरते नहीं पर जोरू से तुम डरते हो ! डूब मरो चुल्लू […]

कविता

भ्रष्टाचारी नेता को हराना है

ठुश ठूस कर खाते हैं जनता का   पैसा भाषण देते हैं भरपूर! जो ना करें जनता की सेवा दिल से ऐसे नेता से रहना दूर!  भ्रष्टाचारी नेता जीतने से पहले जनता के आगे सर झुकाते हैं! चुनाव जीतने के बाद यह नेता फोन तक भी नहीं उठाते हैं! नाली खरंजा विधवा पेंशन राशन कार्ड का […]

सामाजिक

नाबालिक युवक पोर्न फिल्में देख नशा करके देते हैं बलात्कार हत्या जैसी घटनाओं को अंजाम

नाबालिग युवक आज भारत में इस कदर नशा और पोर्न फिल्म देख बलात्कार और हत्या जैसी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं, जो बेहद ही गंभीर और दुखद है. आप सभी देख रहे हैं कि आज  ज्यादातर आरोपी नाबालिक होते हैं, जो नशे की हालत में अपना मानसिक संतुलन खो देते हैं और अश्लीलता को […]

सामाजिक

कहने को तो बाजार में सब कुछ मिल जाता है पर मां जैसी जन्नत और बाप जैसा साया कहीं नहीं मिलता

कहने को तो बाजार में सब कुछ मिल जाता है पर मां जैसी जन्नत और बाप जैसा साया कहीं नहीं मिलता इस  दुनिया में आपकी सहायता आप की देखभाल करने वाले लाखों हजारों लोग होंगे पर मां-बाप जैसा साया जो परछाई की तरह सदैव आपके साथ बना रहता है और आपकी देखभाल और सदैव आपकी […]

भजन/भावगीत

भजन – प्रभु जी सुनो विनती हमारी

प्रभु इतना ध्यान रखना जब अंत समय आए ! दर्शन का हमको दान देना जब अंत समय आए! प्रभु जी अब सुन लो बस इतनी विनती हमारी!  हम सेवक रहे तुम्हारे सदा और  तुम हमारे स्वामी! परिवार का रक्षक पालन पोषण सदा करना! जब तक हो इस धरती पर सांस में सांस हमारी! अपनी कृपा […]

कविता

मैं पत्रकार हूं

कलम का सिपाही हु मैं लोकतंत्र बनाए रखने में भागीदार  हु ! सत्य निष्ठा से लिखता हूं खबरें अखबार में हां मैं पत्रकार हु ! झूठ को उजागर करना है काम मेरा सच का में पहरेदार हु ! बुराई का दुश्मन और अच्छाई का दोस्त हु में हा मैं पत्रकार हु ! सुख-दुख का संदेश […]