हास्य व्यंग्य

खट्टा-मीठा : चमत्कार को नमस्कार

आलू से सोना बनाने की चमत्कारी मशीन का आविष्कार करने वाले महान् वैज्ञानिक पप्पू जी ने इधर एक और चमत्कारी आविष्कार कर डाला है, जिसकी किसी को खबर नहीं है। वह है रातों-रात करोड़ों लोगों के हस्ताक्षर एकत्र कर डालना। उन्होंने इसकी एक विलक्षण तकनीकी का आविष्कार किया है, जिससे यह समय साध्य और उबाऊ […]

हास्य व्यंग्य

खट्ठा-मीठा : जाने कहाँ गये वे दिन

अहा! वे भी क्या दिन थे! सरकार को हमारी सुरक्षा की इतनी अधिक चिन्ता रहती थी कि हर त्यौहार पर सुरक्षा चेतावनियाँ जारी की जाती थीं। उन चेतावनियों के साये में लोग सावधानी से त्यौहार मनाने की औपचारिकता निभाते थे। उनको हर समय डर लगा रहता था कि कोई रंग में भंग डालने वाला तो […]

हास्य व्यंग्य

खट्टा-मीठा : अँधेरा क़ायम रहे

मैं अपने घर में दीया जलाये बैठा था कि बाहर कुछ शोर सुनाई दिया। मैंने दरवाज़ा ज़रा-सा खोलकर झाँककर देखा तो एक भीड़ इधर-उधर थूकती आ रही थी और नारे लगा रही थी- ‘अँधेरा क़ायम रहे!’ मैंने घबराकर एक से पूछा- “कौन हो तुम ? क्या बात है?” वह बोला- “हम रहनुमा किलबिस के अनुयायी […]

हास्य व्यंग्य

खट्ठा-मीठा : बड़े लेखक

वे हिन्दी के बड़े लेखक हैं। कम से कम स्वयं को ऐसा ही मानते हैं। उन्होंने हिन्दी साहित्य की बड़ी सेवा की है। अनेक रचनायें दी हैं, जो इधर-उधर कई पत्र-पत्रिकाओं की शोभा बढ़ा चुकी हैं। वैसे जब भी उनकी कोई रचना किसी सम्पादक के पास पहुँचती है, वह पत्रिका की शोभा बढ़ाये या न […]

हास्य व्यंग्य

खट्ठा-मीठा : अचार संहिता

(डिस्क्लेमर – इस अचार संहिता का लोकसभा चुनाव से कुछ लेना-देना नहीं है। कृपया गलतफहमी न पालें।) किचन आयोग ने तत्काल प्रभाव से निम्नलिखित अचार संहिता लागू की है, जिसका पालन सभी किचन वालों को करना अनिवार्य है, नहीं तो उन्हें किचन में घुसने से रोक दिया जाएगा। 1. किसी अचार का प्रचार करने से […]

हास्य व्यंग्य

खट्ठा-मीठा : रबड़ी और इमरती

अभी तक अँगूठाछाप निरक्षर भट्टाचार्य मंत्री/मुख्यमंत्री के उदाहरणस्वरूप रबड़ी देवी का ही नाम लिया जाता था, जिनको चाराचोर लालू प्रसाद ने जेल जाते समय अपनी जगह बिहार के मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठाया था। अब इस गौरवशाली परम्परा में एक नया नाम जुड़ा है- इमरती देवी का, जो मध्य प्रदेश की मंत्री हैं और कहा […]

हास्य व्यंग्य

खट्ठा-मीठा : रबड़ी और इमरती

अभी तक अँगूठाछाप निरक्षर भट्टाचार्य मंत्री/मुख्यमंत्री के उदाहरणस्वरूप रबड़ी देवी का ही नाम लिया जाता था, जिनको चाराचोर लालू प्रसाद ने जेल जाते समय अपनी जगह बिहार के मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठाया था। अब इस गौरवशाली परम्परा में एक नया नाम जुड़ा है- इमरती देवी का, जो मध्य प्रदेश की मंत्री हैं और कहा […]

हास्य व्यंग्य

खट्ठा-मीठा : हमारी बिल्ली, हमीं से म्याऊँ

उनको बिल्ली पालने का बड़ा शौक था। एक से एक खूबसूरत मुलायम बिल्लियों को पालना और उनके ऊपर हाथ फिराते हुए उनका मुँह चूमना उनकी मुख्य आदत थी। कभी कभी वे उनके बदन को भी प्यार से सहला देते थे। बिल्लियों को इन सब हरकतों पर कोई आपत्ति नहीं थी, क्योंकि वे उनको न केवल […]

हास्य व्यंग्य

खट्ठा-मीठा : नमाजवादी वैकुण्ठ वास

आज चलते-चलते मैं एक नमाजवादी से टकरा गया। वे बड़े प्रसन्न लग रहे थे। मैं चकराया कि टोंटीचोर का यह चमचा आज इतना खुश क्यों है? मैंने पूछ लिया- “कहिए नमाजवादी जी, आज इतने खुश क्यों हो?” वे बोले- “आपको नहीं पता? भैया ने दिल खुश करने वाली घोषणा की है!” “क्या?” “वे विशाल विष्णु […]

हास्य व्यंग्य

खट्ठा-मीठा : चोरी मेरा काम

पहले चारा चोर, बैसाखी चोर और मिट्टी चोर ही प्रसिद्ध थे। अब इस गौरवशाली परम्परा में एक नया नाम जुड़ा है “टोंटी चोर” का। ये जनाब मुल्ला यम सिंह के नूरे-नजर हैं और कुछ समय पहले तक नमाजवादी पार्टी से उल्टे प्रदेश के मुख्यमंत्री हुआ करते थे। मुख्यमंत्री बनते ही अपनी पहली बड़ी समाजसेवा उन्होंने […]