Author :

  • नयी पहल

    नयी पहल

    रजुआ के बाऊजी बी.ए के फारम कहिया मिलेला। का करब फारम का, दिमाग सठिया गइल का। बाऊजी के समझ से परे था अशिक्षित पत्नी बी.ए के फार्म की बात उस वक्त क्यों कर रही है जब...

  • आ जाओ एक बार

    आ जाओ एक बार

    “कहाँ हो रोहित, क्यों मुझे अकेलापन का दंश दे गये। तलाक के कागज पर ठप्पे लगने मात्र से ही क्या हमारे दिल के रास्ते अलग हो गये। क्यों तुमने अपनी जिंदगी से मुझे बाहर निकाल फेंका?...