कविता

मातृदेवो भव, पितृदेवो भव

माता पिता मेरे ईश्वर अल्लाह है यही जमीन मेरी और आसमान हैं वह खुदा मेंरे और भगवान हैं माता पिता के चरणों में सारा जहान है माता-पिता से ही मेरी पहचान है दुनिया में बस यह दोनों ही महान है नहीं चाहिए मुझे कुछ यह मेरे सब कुछ है मैं उनसे वह मुझसे बहुत खुश […]

स्वास्थ्य

मन स्वस्थ है तो तन स्वस्थ है

सृष्टि के अनमोल हीरे मानव प्रजाति में उसकी रचना करने वाले ने अदभुत गुणों की खान सृजित की है बस, हमें अपनीं अनमोल कुशाग्र बुद्धि से उसे पहचान कर अपने जीवन में ढालना है, तो फिर हर कोई कहेगा देखो क्या खूबसूरत सुखी जिंदगी है!! अपने आप में, परिवार, मोहल्ले, समाज में ही हम सतयुग […]

राजनीति

पारंपरिक और आधुनिक शिक्षा प्रणाली के बीच खाई?

भारतीय प्राचीन विरासत हजारों वर्ष पुरानी है जिसकी गाथाओं से इतिहास भरे पड़े हैं जिसे हमने पढ़ें वह सुने भी हैं, जिसे अब संरक्षित प्रिलेखित और प्रचार-प्रसार की नितांत आवश्यकता को रेखांकित करना ज़रूरी है क्योंकि वर्तमान में बदलते परिपेक्ष में,बढ़ते डिजिटल युग में हर क्षेत्र में हर कार्यक्रम डिजिटलाईड हो रहा है हस्त लिखित […]

सामाजिक

वक्त कभी किसी का सगा नहीं

खूबसूरत सृष्टि की रचना करने वाली कुदरत ने खूबसूरत मानवीय जीवन के साथ वक्त का एक ऐसा पहिया संलग्न कर दिया है कि मानवीय जीवन चक्र के साथ वक्त का पहिया भी घूमता रहता है, जो किसी का सगा नहीं है, बस मानवीय जीवन को ही अपनी बुद्धि के बल पर परिस्थितियों के अनुसार कुशाग्र […]

कविता

कविता – बुजुर्ग हमारी थिंक टैंक और शान है

बुजुर्ग हमारी थिंक टैंक और शान है परिवार का बड़प्पन और महान है अनुभवों और तजुर्बा की खान है जो बुजुर्ग दिव्यांगों की सेवा करें वह महान है दिव्यांगजन और राष्ट्रीय वायोश्री योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों को सहायक सहायता उपकरण वितरण सामाजिक अधिकारिता शिविरमें हुआ है दिव्यांगजन और बुजुर्ग सशक्तिकरण हो रहा है बुजुर्गों […]

कविता

कविता – प्रथम गुरु है माता पिता

जिस परिवार में माता-पिता हंसते हैं उनके आंगन में भगवान बसते हैं प्रथम गुरु माता-पिता होते हैं अच्छी सीख परिवार में देते हैं परिवार है फूलों की माला यह सिखाते हैं इस माला के हम सब फूल यह बताते हैं प्रेम सद्भाव से रहना सिखाते हैं भारतीय संस्कृति की यही पहचान बताते हैं परिवार वृक्ष […]

राजनीति

ग्लोबल कोविड-19 सम्मिट 2022

वैश्विक स्तरपर कोविड-19 महामारी का कहर जिस तरह पूरी दुनिया ने झेला और लाखों लोगों ने अपने प्राण खोए, जीवन चक्र के हर क्षेत्र को बाधित किया, इतिहास के पन्नों में दर्ज इस घटनाक्रम को पीढ़ियों तक याद किया जाएगा परंतु कुछ अपवादों को छोड़ दें तो इस महामारी को करीब-करीब नियंत्रित कर लिया गया […]

सामाजिक

कृतज्ञता एक संस्कार है

कुदरत द्वारा सृष्टि की रचना कर उसमें मानव योनि को इस पूरी कायनात का सबसे बड़ा तोहफा, सर्वश्रेष्ठ बुद्धि देकर मानवीय गुणों का सृजन किया है। सकारात्मक मानवीय संस्कारों की झड़ी भी लगा दी है, जिसमें सबसे महत्वपूर्ण गुण मानवीय आचरण है तथा उस आचरण का एक विशेष महत्वपूर्ण अंग है कृतज्ञता यह एक संस्कार […]

सामाजिक

मुस्कराना खूबसूरत जिंदगी का इम्यूनिटी बूस्टर

कुदरत नें इस ख़ूबसूरत सृष्टि रूपी कायनात में एक खूबसूरत प्राणी मनुष्य की रचना कर 84 लाख़ जीवों से अलग एक विशेष कलाकृति बुद्धि का सृजन मानव शरीर में समाहित किया ताकि उस के बल पर अन्य जीवों से अति उत्तम जीव बन कर रहे! वैसे तो मानव शरीर की संरचना के अंग हर दूसरे […]

सामाजिक

हेलमेंट और पत्नी दोनों सुरक्षा कवच

वैश्विक स्तरपर नारी का सम्मान हर देश में किया जाता है। नारी के हक़, अधिकार, समानता का भाव इत्यादि अनेक अवसरों के लिए वैश्विक स्तरपर अनेक दिन मनाए जाते हैं। हमने अभी 8 मार्च 2022को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस बड़े जोरदार ढंग से और शिद्दत के साथ मनाया। साथियों आधी आबादीके तौर पर महिलाएं हमारे समाज […]