Author :

  • परी

    परी

    जैसे ही डॉक्टर अली की कार ने रिसॉर्ट्स में प्रवेश किया, गेट पर खड़े दरबान ने उन्हें रुकने का इशारा किया। रात के साढ़े आठ बजे थे। अली ने दरबान से कार रोकने का कारण पूछा।...

  • चच्चा

    चच्चा

    ट्रिन ट्रिन फोन की घंटी ने नींद खोली। शनिवार ऑफिस की छुट्टी, देर तक सो रहा था। सुबह सुबह किस का फोन आ गया। एक बार शंका हुई कहीं ऑफिस से बुलावा तो नही है? खैर...

  • पगली

    पगली

    कैंसर शब्द सुनते ही रीना पर वज्रपात गिर गया। पिछले एक वर्ष से गिरती सेहत से परेशान रीना के मुख से एक शब्द भी नही निकला बस आंखों से गंगा-जमुना बह निकली। एक वक्ष काट कर...

  • लोफर

    लोफर

    निरंजन आज सुबह जल्दी अपनी वर्कशॉप में आकर काम में व्यस्त हो गया। शाम पांच बजे तक हर हालत में कार ठीक करके देनी है। बिना पलक झपके काम में अपने कर्मचारियों के संग कार को...

  • हवा पूरी है

    हवा पूरी है

    कुछ दिनों से आनन्द को परेशान देख कर आनन्दी से आखिर रहा न गया और पति से उदासी का कारण पूछ ही लिया। लेकिन आनन्द बात को टाल गया। सिर्फ इतना कहकर कि कोई खास बात...

  • साथी

    साथी

    कुछ वीरान सी हो गई ज़िन्दगी साथी के चले जाने के बाद। अब तो दीवारे ही हो गई साथी साथी के चले जाने के बाद। बार बार याद आता है चेहरा साथी का साथी के चले...

  • शान्ति

    शान्ति

    पागल पागल पागल की आवाज के साथ कुछ बच्चे शोर मचाते हुए भाग रहे थे, उनके पीछे एक महिला अभद्र गालियां बकती हुई पीछा कर रही थी। उस महिला ने एक पत्थर उठा कर उन आगे...

  • यादें

    यादें

    दोपहर के समय उमाशंकर घर में अकेले आराम कर रहे थे। बच्चे, बहुएं और पोते, पोतियां सभी काम पर गए हुए थे। उम्र छिहत्तर वर्ष। तभी फोन की घंटी बजी। फोन पर उसकी बड़ी बहन कौशल्या...

  • नई शुरुआत

    नई शुरुआत

    मंगलवार की शाम मंदिर में कीर्तन में कमला और विमला मिली। कीर्तन समाप्त होने पर दोनों में बातचीत हुई। “और कमला बहुत दिनों बाद नजर आई, कुछ कमजोर भी हो गई हो?” विमला ने एक हाथ...

  • सहारा

    सहारा

    थोड़े दिनों से सरला को आंखों की तकलीफ होने लगी। दिखना कुछ कम हो गया तब चश्मा लगा लिया। चश्मा लगाने से काफी आराम मिला। उम्र पचपन की हो गई और बच्चों का विवाह हो गया।...