समाचार

लिली यादव को पुरस्कार मिले

लिली यादव कक्षा-2,को परमाणु ऊर्जा केन्द्रीय विधालय -क्रमांक-3 रावतभाटा में सी०सी०ए० ऐक्टिविटी में पुरस्कार मिले! अटामिक एनर्जी सेंट्रल स्कूल न०3,रावतभाटा में प्राइमरी इनचार्ज श्रीमती सुरभी पाण्डेय मैडम एवम् श्रीमती विजय शर्मा मैडम ने लिली यादव को सर्टिफ़िकेट एवम् इनाम राशि सोपी! लिली यादव को चित्रकला में प्रथम पुरस्कार अवम फ़ैन्सी ड्रेस में कॉन्सलेशन पुरस्कार मिले! […]

समाचार

चित्रकला पर ज्ञान दान

डॉक्टर मिली भाटिया आर्टिस्ट ने राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय-रावतभाटा में कक्षा 12 वीं के चित्रकला के 80 विद्यार्थियों को बोर्ड की परीक्षा के लिए प्रैक्टिकल और थ्योरी के विषय में टिप्स दिए! डॉक्टर मिली भाटिया आर्टिस्ट ने प्रैक्टिकल में स्टिल लाइफ़ (वस्तु चित्रण) अवम प्राकृतिक द्रश्य सब्जेक्ट पर जानकारी दीं और चित्रकला की बारीकियों से […]

संस्मरण

नन्हे बच्चों को साक्षरता का महत्व समझाया

नारी शिक्षा ही समाज का आइना डॉक्टर मिली भाटिया आर्टिस्ट ने विश्व साक्षरता पर अपने विचार बच्चों से साझा करते हुए कहा की आपके घर में जो काम करने के सहयोग देने वाले जैसे धोबी,झाड़ू पोछा करने वाली आंटी,आदि में से काम से कम एक बच्चे को ज़रूर शिक्षा के लिए प्रेरित करे!मुमकिन हो तो […]

संस्मरण

हवलेश सर

जून 2020 क़रीब 8 महीने पहले मैंने आर्टिकल लिखना शुरू किया! शिक्षा वाहिनी न्यूज़पेपर के लिए आदरणीय एडिटर श्री हवलेश कुमार पटेल सर को भेजने शुरू किए!फ़ेसबुक में ई-लिंक पब्लिश करने के बाद मुझे वट्सअप में भेज देते हें!कभी कुछ कहते नहीं हें!15 जुलाई 2020 को उनके जन्मदिन पर मैंने फ़ोन करके विश किया!उसके बाद […]

संस्मरण

डॉक्टर मिली भाटिया आर्टिस्ट की कहानी

मेरा बचपन से लेकर पी० अच० डी० तक चित्रकला का  सफ़र पेश है एक सकारात्मक कहानी डा मिली भाटिया आर्टिस्ट की! 17 साल पहले 14 नोवेम्बर 2003 अपनी मम्मी के आकस्मिक स्वर्गवास के बाद रावतभाटा की बेटी व बहु डा मिली नन्हें बच्चों में चित्रकला के माध्यम से जागरूकता फेला रही हें! डॉक्टर मिली भाटिया […]

संस्मरण

मेरी माँ की रसोई में मेरा पहला कदम

बात 2003 की है!में तब बी०अ० फ़र्स्ट ईयर में आई ही थी!हॉस्टल से घर में राखी की पहली बार छुट्टियाँ मानने घर आई थी!मम्मी ने पूछा क्या बनाऊँ,मैंने कहा आलू के पराठे!मम्मी बोली सुबह तो दम आलू खाए हें,आलू के पराठे सुबह बना दूँगी!में उनसे रूठ कर बेठ गई!वो भी ग़ुस्से में थीं,बोली जो खाना […]

संस्मरण

लोग

कुछ तो लोग कहेंगे…..लोगों का काम है कहना…….!!! आज सुबह एक फ़्रेंड से बात हुई, उसने बोला तेरे वट्सऐप स्टेट्स में तेरे आर्टिकल देख कर बोर हो गये हें,वह बोला तूने क्या अख़बार ख़रीद रखे हें जो हर अख़बार में छपती है,थोड़ी देर बाद एक सहेली से बात हुए,उसने पूछा और मिली अब किस विषय […]

संस्मरण

27 सेप्टेम्बर 2020 : डॉटर डे विशेष

डॉक्टर मिली की लिली-ईश्वर की सबसे प्यारी सौग़ात कौन हूँ क्या नाम हें मेरा,में परियों की शहज़ादी में आसमान से आई हूँ…… मैंने कहा लिली से हँसो तो वो खिलखिलाके हंस दी…. बिटिया लिली हैपी डॉटर डे, तुम मेरी ज़िंदगी हो,मेरा अंश हो,मेरी सौग़ात हो!तुम 6 एंड हाफ़ साल की बिटिया इतनी समझदार हो,हैरानी होती […]

कविता

हैपी बर्थडे प्यारी लिली

15 जनवरी 2021 हैपी बर्थडे प्यारी लिली मिली की “लिली” नख़रेवाली खिली मेरी बेटी सबसे छोटी करती वो दो-दो चोटी नहीं खाती बिलकुल रोटी मम्मी की हेल्प करती दिनभर टॉल्ज़ के साथ खेलती अपने रूम को दिनभर जमाती ड्रॉइंग बोहोत सुंदर बनाती मन लगाकर पढ़ाईं करती “नानाजी” से कहानी सुनती “पापा” से लाड़ लड़ाती आज […]

संस्मरण

पत्र  5 जून 2020 : दर्द का रिश्ता

सिसकियाँ ना भर होले होले!! रोना है तो जी भर के रोले!! प्रिय जया दानी आंटी, हैपी बर्थडे आंटी, आप हमेशा से मेरी माँ की सबसे प्रिय सहेली,मेरे पापा की सर्वप्रिय बहन,और मेरी दादी की सबसे प्रिय बेटी रहीं!बी.अ. फ़र्स्ट ईयर में अड्मिशन लिया ही था मैंने और तब मम्मी मुझे छोढ़ कर ईश्वर के […]