धर्म-संस्कृति-अध्यात्म

उठो जागो और अपने लक्ष्य तक पहुंचने से पहले रुको मत – स्वामी विवेकानंद

युवाओं के शक्तिपुंज, आदर्श तथा प्रेरक युगदृष्टा संत स्वामी विवेकानंद का जन्म कलकत्ता के दत्त परिवार में 12 जनवरी 1863 ई को हुआ था। स्वामी विवेकानंद के बचपन का नाम नरेंद्र नाथ था। स्वामी विवेकानंद के पिता विश्वनाथ दत्त कई गुणों से विभूषित थे। वे अंग्रेजी एवं फारसी भाषाओं में दक्ष थे। बाइबल उनका पसंदीदा […]

राजनीति

किसानों के हित में अभिनव मिशन है किसान कल्याण मिशन

प्रदेश व केंद्र की सरकारें किसानों की आय दोगुनी करने के लिए वचनबद्ध, संकल्पबद्ध ही नहीं बल्कि पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं तथा किसानों के हित में सरकारें दिन-रात काम कर रही हैं। आगामी पंचायत चुनावों को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार व संगठन ने फिलहाल अपना पूरा ध्यान गांव, गरीब […]

राजनीति

प्रदेश की राजनीति में आआपा का प्रवेश कोई चुनौती नहीं

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उत्तर प्रदेश में आगामी 2022 में विधानसभा चुनाव लडने का ऐलान कर दिया है। यह कोई नयी और हैरानी करने वाली बात नहीं है कि आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल की घोषणा से प्रदेश की राजनीति में कोई महाभूकम्प या फिर महापरिवर्तन आ जायेगा। हालांकि वे उप्र […]

इतिहास

राष्ट्रीय एकता के सूत्रधार – लौहपुरुष सरदार पटेल

स्वतंत्रता के पश्चात भारतीय एकता के प्रतीक एक प्रखर देशभक्त जो ब्रिटिश राज के अंत के बाद 562 रियासतों को जोड़ने के लिए प्रतिबद्ध तथा आजादी के बाद एक महान प्रशासक जिन्होनें स्वतंत्र देश की अस्थिर स्थिति को स्थिर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी ऐसे महान लौहपुरुष सरदार पटेल का जन्म 31 अक्टूबर 1875 को […]

राजनीति

कांग्रेस का बौद्विक स्तर बहुत ही निचले पायदान पर

इधर कांग्रेस के कई नेताओं के बयान आ रहे हैं, जिनसे यह साफ लग रहा है कि कांग्रेस का बौद्धिक स्तर बहुत निचले पायदान पर पहुंच गया है तथा ये नेता अपनी और कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी तथा उनके परिवार की टीआरपी को बढ़ाने की बजाय रसातल पर ले जा रहे हैं। सर्वप्रथम कांग्रेस […]

राजनीति

अभिव्यक्ति की आजादी मतलब देशद्रोह करने की आजादी?

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला, जिनके परिवार की तीन पीढ़ियों ने तीन दशक से भी अधिक समय तक राज्य में शासन किया, आज अनुच्छेद-370 और 35-ए के समापन के बाद इस कदर बौखला गये हैं कि वे अब चीन की मदद से इन धाराओं की वापसी का सपना देखने लगे हैं। अब फारुख अब्दुल्ला […]

राजनीति

भारतीय राजनीति में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गौरवमयी उन्नीस साल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी ऐतिहासिक राजनैतिक यात्रा के उन्नीस वर्ष बहुत ही सफलता के साथ पूरे कर लिये हैं तथा वह देश के सबसे लंबे समय तक गुजरात की जनता की सेवा करने के बाद अब देश की जनता की सेवा के लिए निकलने वाले ऐसे पहले गैर कांग्रेसी व गैर समाजवादी नेता बन […]

राजनीति

प्रदेश में बढ़ते महिला अपराध और विकृत राजनीति

जब से प्रदेश सरकार ने महिला अपराधों के प्रति बेहद कड़े कदम उठाने का निर्णय लिया है तब से प्रदेश में महिला अपराधों विशेषकर रेप, गैंगरेप और मर्डर की अचानक बाढ़ आ गयी है, जिनमें हाथरस और बलरामपुर की घटना निश्चय ही सभ्य समाज के लिए बेहद हृदय विदारक, दुखदायी व दर्दनाक है। वहीं सबसे […]

राजनीति

हिंदुत्व विचारधारा की ऐतिहासिक विजय

अयोध्या विवाद का न्यायपालिका के ऐतिहासिक निर्णयों के बाद समापन हो चुका है। अयोध्या पर 9 नवंबर 2019 और अब 30 सितंबर 2020 को आया फैसला हिंदुत्व विचारधारा की ऐतिहासिक विजय है। 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस घटना के बाद से ही सेकुलर ताकतों व वामपंथी विचाररधारा के इतिहासकार, बुद्धिजीवियों ने […]

राजनीति

भूमिपूजन के बाद ब्राह्मणवाद के नाम पर राजनीति सनातन धर्म व मंदिर के खिलाफ साजिश

अयोध्या में लंबी प्रतीक्षा के बाद भव्य मंदिर निर्माण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से भूमि पूजन किये जाने से देश के करोड़ों रामभक्तों में जैसा उत्साह, उल्लास, उमंग व आनंद का वातावरण अभी भी व्याप्त है तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अयोध्या में भूमिपूजन व दर्शन किये जाने के बाद जिस प्रकार […]