स्वास्थ्य

कोरोना त्रासदी

चीन में जन्मा कोरोना मांसाहार व अभक्ष्य आहार की देन है | आज कोरोना ने पूरे विश्व पर खतरा पैदा कर दिया है |  विश्वभर के डॉक्टर, वैज्ञानिक कोरोना वायरस को लेकर चिंतित हैं | सारा विश्व कोरोना के आतंक की तबाही की जद में आ चुका है | धीरे-धीरे कोरोना एक महामारी का रूप […]

कविता

मैं टूटकर बिखर सा गया हूँ

मैं टूटकर बिखर सा गया हूँ मैं रेत सा फिसल सा गया हूँ मांझी के भरोसे बैठा हूँ लेकर कश्ती बीच दरिया में… मंजिल मेरी गुम हो गई मेरे चेहरे की रौनक खो गयी जिंदगी की कशमकश में… न सुकून, न चैन मिलता है बड़ी बेबसी भरी है ज़िन्दगी में… ड़र है मुझे खुद से […]

कविता

लाइव शो

लाइव शो की बात निराली मंच सजी है रंग-रंगीली नाच रहे हैं छैल छवीले दिखते सारे नीले-पीले किन्नरों से करतब इनके यहाँ आते वही, घर भरे जिनके गंधर्वों से करते काम उतारदें कपड़ें लेकर दाम इंद्राशन सा हॉटशीट मेनका-रंभा उछलें सौ-सौ फीट फैलाकर अश्लीलता घर-घर संस्कारों को रहे मार क्या कहने, इनके वारे-न्यारे लाइव शॉ […]

कविता

दिवस आया एक नया 

दिवस आया एक नया लेकर रंगों की सौगात गाओ रे फाग मंगल गीत दिवस आया एक नया गौरी रचाए सुंदर श्रृंगार बरसाये मंद-मंद प्रेम फुहार दिवस आया एक नया उढ़े रंग-गुलाल गली-गली खिल उठीं सारीं कच्ची कली दिवस आया एक नया मिष्ठानों-पकवानों की महक फिर चंचल मन की चहक दिवस आया एक नया हो न […]

लघुकथा

लघुकथा – वंश

नरेगा यानी कि मनरेगा ! भारत सरकार की वह योजना, जिससे गरीबों का भला होने वाला था, परन्तु भला हो गया मनरेगा से जुड़े अधिकारियों का | उन्हीं अधिकारियों में से एक हैं सम्पतराम, जो कभी टूटी-फूटी साईकिल पर चला करते थे, वे आजकल बुलेरो गाड़ी से मंत्री वाले ठाठवाठ में चलते हैं | उनकी […]

कविता

मणिकर्णिका घाट

मणिकर्णिका घाट वह स्थान है जहाँ चिता की आग कभी नहीं बुझती | इस घाट में बड़े-बड़े वीर – बलवान जलकर राख हो चुके हैं | जीवन का सत्य मन का वैराग्य अगर किसी को जानना हो तो मणिकर्णिका घाट की यात्रा जीते जी करे… बड़े-बड़े रहीस नेता, अभिनेता, धर्मगुरु, उद्योगपति, अफसर, खिलाड़ी सबको पनाह […]

समाचार

विश्वशांति मानव सेवा समिति, मुखपत्र- शांति पथ का विमोचन व सम्मान समारोह कार्यक्रम सम्पन्न 

आगरा | यूथ हॉस्टल सभागार, संजय पैलेस (आगरा) में विश्व शांति मानव सेवा समिति द्वारा प्रथम वर्षगांठ व पत्रिका ‘ शांति पथ ’ (प्रवेशांक) का विमोचन कार्यक्रम आयोजित किया गया । जिसमें सर्वप्रथम माँ सरस्वती के सम्मुख श्री नवीन जैन आगरा शहर महापौर), डॉ0 अमी आधार निडर, डॉ0 शशि पाल वर्मा, संतोष कुमार निषाद हर्ष, […]

लघुकथा

लघुकथा : सीधी-सच्ची बात

काँइं – काँइं करती हुई लँगड़ी कुतिया अपना टूटा पैर खींचती हुई बाहर चली गई | काकी ने बड़ी जोर से बेचारी कुतिया की पीठ पर डडोका (लट्ठ) जो मारा था | काकी की ये हरकत आर्यन को कतई अच्छी नहीं लगी | वो रुआँसा सा होकर काकी से बोला – ‘काकी तुम बुरी हो, […]

बाल कविता

हम बच्चे मिलकर 

कूड़ा करकट यहाँ-वहाँ मत फैलाओ कूड़ेदान में ही कूड़ा डाल के आओ आओ-आओ प्यारे-प्यारे बच्चों आओ एकसाथ मिलकर भारत स्वच्छ बनाओ स्कूल हो या घर, सड़क हो या मैदान सर्वत्र चलायें स्वच्छता अभियान स्वच्छ रहे परिवेश हमारा करलो ये प्रण निश्चय ही बलवान बने अपना तन-मन बापू ने स्वच्छता की अलख जगाई थी मोदीजी ने […]

कविता

आत्महत्या

तुम्हारे जाने से किसी पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा माह दो माह का रोना – धोना होगा ज्यादा से ज्यादा, बस…! सूरज वैसे ही निकलेगा, चंदा वैसे ही चमकेगा, तारे वैसे ही टिमटिमायेंगे जैसे तुम्हारे जीते जी क्रियाशील हैं | सच बताऊं – ये सारा ब्रह्माण्ड दु:खी है अकेले तुम ही नहीं… तुम वो बनो […]