Author :

  • चिता 

    चिता 

    चिता एक कडवा सच है गरीब-अमीर सबके लिए परन्तु – आश्चर्य… महाआश्चर्य अनजान बने बैठे हैं सब उठती लपटों से / उढ़ते धुंए से / मुट्ठी भर राख से | रोज जल रहीं हैं लाखों चिताएं...




  • रक्षा बंधन

    रक्षा बंधन

    रक्षा बंधन का पावन पर्व आया है, बहिना की राखी का स्नेह लाया है | कच्चे  धागों  का  अटूट  बंधन  आया  है, हुमायुं-कर्मवती की याद का पर्व आया है | बहिन की रक्षा के लिए राखी...

  • जननायक

    जननायक

    भारत की माटी के कण-कण में महक तुम्हारी | जन – जन  के कल्याण की जननीति तुम्हारी || सदा सुगंधित रहेगी यादों की बगिया प्यारी-प्यारी | गौरवपूर्ण आस्था संविधान में रही हमेशा तुम्हारी || अद्भुत –...


  • सच्ची आजादी

    सच्ची आजादी

    भारत भू का बच्चा-बच्चा दीवाना है ढोंगी नेताओं से अपना देश बचाना है शौर्य-वीरता हमारी मजबूत इस्पात समान   हम हैं शेर और चीन-पाक गीदढ दुश्मन     सैनिक सदा अपना सैन्यधर्म निभाये हर नागरिक अपने...


  • ख़्वाब

    ख़्वाब

    चाँदनी रात में वो बैठा है झील के किनारे देख रहा है खुली आँखों से ख़्वाब… बह रही है ठंडी-ठंडी हवा पर शांत है झील और शांत है वो भी… खोया हुआ है महबूब की यादों...