Author :

  • धर्म ,जाति और अब वंशवाद

    धर्म ,जाति और अब वंशवाद

    इस देश को अब तक सबसे ज्यादे नुकसान पहले ‘धर्मांधता ‘ने पहुँचाया फिर ‘जातिवाद’ ने और अब आज की ‘सिद्धांत विहीन’ राजनीति में ‘सर्वाधिक ‘नुकसान यहाँ नेता का बेटा ही उसका उत्तराधिकारी बनेगा की ‘वंशवादी’ तुच्छ...