पर्यावरण

दिल्ली में वायु प्यूरीफायर का लगना एक अच्छी पहल

भारत में दिल्ली और एनसीआर के कई शहर विश्व के सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में अग्रणी हैं। जाड़े की शुरूआत में दीवाली में यहाँ के शहरों में करोड़ों की संख्या में मुख्यतः फुलझड़ियों, चकरी पटाखों और अनार छोड़ने से भयंकरतम् प्रदूषण की वजह से साँस लेना दूभर हो जाता है, आँखों में तेज जलन होने लगती […]

पर्यावरण

ऐसे बैक्टीरिया की खोज जो कॉर्बन डाइऑक्साइड खाकर चीनी बनाएंगे !

आधुनिक युग में वैज्ञानिक नित-प्रतिदिन ऐसे अविष्कार कर रहे हैं, जिन पर सहज विश्वास करना कठिन हो जाता है, उदाहरणार्थ समाचार पत्रों में अभी-अभी प्रकाशित खबरों के अनुसार इजरायली वैज्ञानिकों ने तेल अबीब स्थित ‘वेइजमेन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस ‘और ‘रिसर्च सेंटर ‘के वैज्ञानिकों ने अपने दसियों साल के अनथक मेहनत, परिश्रम व मेधा शक्ति से […]

पर्यावरण

आस्ट्रेलिया में लगी भीषण आग से करोड़ों जानवर मरे

आज के अधिकतर समाचार पत्रों में आस्ट्रेलिया के जंगलों में पिछले चार महिनों से लगी भीषण आग से लगभग 48 करोड़ विभिन्न तरह के जानवरों के मारे जाने की अत्यन्त हृदय विदारक व स्तब्ध कर देने वाला समाचार प्रकाशित हुआ है, इन मारे गये जानवरों में तरह-तरह के स्तनधारी जीव, रेंगने वाले रेप्टाइल्स व पक्षी […]

राजनीति

दुनिया को उपदेश देता, दुनिया का सबसे बड़ा आतंकवादी देश

‘पर उपदेश कुशल बहुतेरे ‘वाली भारतीय कहावत, इस धरती के सबसे बड़े आतंकवादी देशों, यथा अमेरिका और मरणासन्न ब्रिटेन जैसे देशों पर बिल्कुल सटीक बैठती है, इन युद्धपिपासु और मानवहंता देशों पर अब तक दर्जनों निरपराध देशों को बर्बाद करने, उनके राष्ट्राध्यक्षों की निर्मम हत्या कराने, दुनिया भर में करोड़ों मनुष्यों का खून बहाने, कई […]

पर्यावरण

किसान का मित्र नेवले का भी ‘अस्तित्व ‘गंभीर संकट में

‘नेवला ‘ एक ऐसा निष्पृह शब्द है, जिसके अवचेतन मन में याद आते ही एक ऐसे चुलबुले, तेज दृष्टि वाले, मटमैले, चितकबरे, सुरमुई रंग के छरहरे, फुर्तीले और बहादुर जीव की तस्वीर उभरने लगती है, जो हमारे बचपन के दिनों में गाँवों में हमारे घरों के आसपास अक्सर, रास्तों में, गलियों में हमारे रास्ते को […]

इतिहास

ब्रिटिशसाम्राज्यवाद बनाम क्रूरतम् हत्यारा नादिर शाह

हम सभी इतिहास में क्रूरता व अपने जुल्मोसितम के लिए कुछ बदनाम क्रूर सम्राटों व बादशाहों यथा नीरो, फ्रांस की रानी, नादिर शाह, तैमूरलंग, चंगेज खाँ, एडोल्फ हिटलर, जोज़ेफ स्टालिन आदि का ही नाम सुनते आए हैं, परन्तु अभी पिछले कुछ दिनों से एक प्रतिष्ठित समाचार पत्र मेंं किस्तों में प्रकाशित ‘कोहीनूर का शाप ‘के […]

भाषा-साहित्य

असली साहित्य और साहित्यकार

कबीर, प्रेमचंद, भारतेंदु हरिश्चंद्र, गोर्की, लियो टॉलस्टॉय, तुर्गनेव, दोस्तोवयस्की, गोगोल, विलियम शेक्सपियर, शहीद-ए-आजम स्वर्गीय भगत सिंह, शहीद गणेश शंकर विद्यार्थी, जयशंकर प्रसाद, हरिशंकर परसाई, कैफी आजमी, पाशा, वशीर बद्र, वसीम बरेलवी, जावेद अख्तर, अली सरदार जाफरी, गुलजार, निदा फ़ाजली, फैज अहमद फैज, फ़िराक़ गोरखपुरी, साहिर लुधियानवी, मुनव्वर राणा, राहत इंदौरी, अदम गोंडवी, विद्रोही आदिआदि लोग […]

सामाजिक

दक्षिण एशिया के देशों में व्याप्त अंधविश्वास और उससे अपनी जान गंवाते लोग

दक्षिण एशिया के देश यथा भारत,पाकिस्तान, बांग्लादेश,नेपाल,श्रीलंका,म्यांमार आदि देश अभी भी भयंकर गरी़बी,अशिक्षा,अंधविश्वास आदि से बुरी तरह त्रस्त हैं,मसलन अभी पिछले दिनों लगे सूर्यग्रहण में कई समाचार पत्रों में भारत और पाकिस्तान से यह समाचार विस्तृत रूप से सचित्र प्रकाशित हुए कि,जिसमें वहां के अंधविश्वासी लोग अपने शारीरिक रूप से अपंग बच्चों को इस अंधविश्वास […]

स्वास्थ्य

शीशम की पत्तियों से बनी दवा टूटी हड्डियों के लिए बनी ‘संजीवनी ‘

आज के अधिकतर समाचार पत्रों ने लखनऊ स्थित सेन्ट्रल ड्रग रिसर्च इंस्टीट्यूट के भारतीय वैज्ञानिकों की टूटी हड्डियों को जोड़ने की एक बेजोड़ दवा अविष्कृत करने का एक सुखद समाचार प्रकाशित किए हैं। इन वैज्ञानिकों ने इमारती लकड़ी के मुख्य श्रोत शीशम {डलबर्जिया सिस्सू }नामक पेड़ की पत्तियों में उपस्थित कुछ विशेष औषधीय तत्व पॉलीफिनाइल […]

पर्यावरण

चिड़ियों का तेजी से होता विलुप्तिकरण अत्यंत चिन्ताजनक

कुछ दिनों पूर्व समाचार पत्रों में एक बहुत ही दुःखद समाचार प्रकाशित हुआ था, जिसके अनुसार पिछले 50सालों में परिंदों की संख्या 3 अरब तक घट गई है, यह बहुत ही क्षुब्ध, विचलित और चिन्तित कर देने वाला समाचार है।अमेरिका के कार्नेल विश्वविद्यालय के शोधार्थियों का एक शोधपत्र साइंस जर्नल में प्रकाशित हुआ है, इस […]