हाइकु/सेदोका

हायकू : राधिका

भीगे नयन निहारि छटा कही राधिका बैन/ १ कान्हा के मन राधिका बसत हैं शृंगार बन …/ २ दिल तू राधा झूठा यह संसार लगत बाधा,,,३ रैन राधिका कहते नयनन दिल भाविका ४ श्याम राधिका नाम राधिका तेरा कान्हा प्रेमिका ५ नभ मे राधा तन मे राधेश्याम फिर क्यों व्याधा ,,,६ — राजकिशोर मिश्र [राज]