गीत/नवगीत

गाओ फिर गीत वही

इक सावन पलकों में बादल भर लाया था गाओ फिर गीत वही जो उस दिन गाया था !! भावुक मन को बहलाने की , घावों को भी सहलाने की , छंदों में मत कोशिश करना , बिखरे शब्दों को सजाने की , प्रिय तेरा संग साथ इस दिल को भाया था ! गाओ फिर गीत […]