हास्य व्यंग्य

चाँदी का छनोटा

आदमी सबकुछ बन सकता है, सिवाय ‘आदमी’ बनने के ! ‘चंद्रकांता’ की तरह उपन्यास लिखने हेतु एक प्रकाशक ने 37 लाख रुपये का एडवांस ऑफर दिया है, पर नई नॉवेल में सेलफोन का उपयोग हो। इसे कहते है, चाँदी के चम्मच लेकर पैदा होना, 9 वीं पढ़ा का उप मुख्यमंत्री बन जाना ! जबरजस्त, श्वानदार,, […]

अन्य लेख

गड़बड़झाला

बिहार सरकार के उच्चाधिकारी- नियुक्ति आयोग (बी.पी.एस.सी.) के द्वारा 45 वीं CC(M) Exam. में उच्च मेधा-प्राप्तांक के बावज़ूद मेरी नियुक्ति एक दशक से नहीं की जा रही है।सभीतरह के साक्ष्य इकट्ठे कर आयोग के संवैधानिक निकाय के कारण 31.05.2013 को म. राष्ट्रपति जी को गुहारावेदन प्रेषित की, राष्ट्रपति सचिवालय से 02.07.2013 को मुख्य सचिव, बिहार […]

कविता

सबसे खूबसूरत लड़की

लज्जा’ नहीं, ‘मुस्कराहट’ है औरत के सर्वोत्तम गहने, पर चौवनिया मुस्कान पर क्या है कहने ? ‘गाँठ’ रिश्ते में हो या शरीर में आखिर एक दिन वह ‘कैंसर’ हो जाता है ! आज जहाँ भी होगी, वो खूबसूरत लड़की 39 की होगी; और मेरे प्रेम के आईने में भी- चेहरे उनकी झुर्रीमुक्त होगी ! दुनिया […]

कविता

सुशासन सरकार

यह है हमारी ‘सुशासन’ सरकार ! नियोजित शिक्षकों के वेतन से काटकर ‘विधायक’ और ‘विधान पार्षदों’ की वेतनवृद्धि करती है हाई कोर्ट से जीती बाजी को सुप्रीम कोर्ट ले जाती है जो दुःसाहस नहीं, है दु:शासन, तकरार, यह है हमारी ‘सुशासन’ सरकार ! भारत धर्मनिरपेक्ष देश है, बावजूद अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी और बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी […]

अन्य लेख

कार्तिक माह और कतकी पूनो

स्वनामधन्य सच्चिदानंद हीरानंद वात्स्यायन ‘अज्ञेय’ की प्रसिद्ध कविता ‘कतकी पूनो’ ! कार्तिक पूर्णिमा की रात की सुंदरता स्वयं में अप्रतिम है। यह रात हल्की-हल्की ठंड की दस्तक लिए आती है और फिर जब उसमें चाँद की शीतलता को महसूस किया जाए तो बरबस वातावरण कवितामय हो जाता है और तब प्रस्तुत कविता कुदरत में प्रेम […]

अन्य लेख

मिस वर्ल्ड और पीएम

जहाँ से शुरू हुई ‘बेटी बचाओ….’ अभियान; वहाँ की बेटी बनी मिस वर्ल्ड – 2017 यानी हरियाणा की 20 वर्षीया मेडिकल छात्रा मानुषी छिल्लर मिस हरियाणा, मिस इंडिया से भी आगे बढ़ इसबार की ‘मिस वर्ल्ड’ बन गयी। भारत की पहली डॉक्टर, जो अपनी सुंदरता की परचम पूरे संसार में लहराई। ऐश्वर्य राय, प्रियंका चोपड़ा […]

कविता

प्रसव के समय

माँ ने कहा- प्रसव के समय सबसे ज्यादा दुःखी मैं थी, तो पिता सबसे ज्यादा खुश ! अब मैं सबसे ज्यादा खुश और पिता सबसे ज्यादा दुःखी ! खुद की वैध आमदनी से अधिक संपत्ति अर्जित करनेवाले और भ्रष्ट पद्धति से संचय करनेवाले ‘मित्रो’ को मैं घृणा की नजरों से देखता हूँ ! सबने सोचा- […]

कविता

अत्यधिक सतर्कता

किसी भी सम्बन्धों के साथ अत्यधिक घनिष्ठता आपके लिए घातक हो सकता है, चाहे पति के लिए प्रिय पत्नी हो या पत्नी के लिए कमाऊ और प्रेम करनेवाले पति ही क्यों ना हो? अगर आपके ‘दुश्मन’ ज्यादे हैं, तो आप अत्यधिक सतर्क हैं ! अगर आपके मित्रों की संख्या ज्यादा है, तो आपके पक्ष में […]

लघुकथा

अंतहीन कथा

“किसी को इतना मत चाहो, कि वह ‘बेवफा’ हो जाये !” प्यार करने (14 फरवरी) के परिणाम (संतान सुख) का दिवस (14 नवम्बर), बिल्कुल 9 माह बाद संतान प्राप्त ! क्या इस तिथि को जन्म लेनेवाले संतान ‘डायबिटीज़’ रोगी तो नहीं होते ? 14 नवम्बर को मधुमेह दिवस भी है ! एक लघुकथा कहीं से […]

अन्य लेख

बी पी एस सी की पूर्वाग्रहग्रस्तता !

राष्ट्रपति सचिवालय के द्वारा मुख्य सचिव, बिहार को लिखा पत्र-‘बिहार लोक सेवा आयोग’ (BPSC) के उस कारनामे के लिए,मुझे कुतर्क बल पर 45 वीं सं.प्रति. परीक्षा – उत्तीर्णता को 17 वषों से अनसुना रहे। आज लोग SDM, BDO, SDC, SDPO बनने-बनाने के लिए खुद तथा बाल- बच्चों को पटना, दिल्ली पढ़ने भेजते हैं । सर के […]