Author :

  • रावण हत:

    रावण हत:

    # रावण हत: राम-रावण संग्राम का बारहवां दिन बीता है। श्रीराम के शिविर में मंत्रणा हो रही है । सुग्रीव के मुख पर चिंता स्पष्ट दिखाई दे रही है । व्यग्र भाव से वे कहते हैं...


  • कालिका स्तुति

    कालिका स्तुति

    # कालिका स्तुति तू भव्य भ्रांत भामिनी तू काव्यकांत कामिनी तू दिव्य दीप्त दामिनी तू शुभ्र सौम्य शामिनी ….. नमन तुम्हे , नमन तुम्हे ।। ….. नमन तुम्हे , नमन तुम्हे ।। तू क्रूद्ध क्रूर कालिका...

  • स्मृति शेष

    स्मृति शेष

    ******* स्मृति शेष ******* घावसमय के निठुर बड़े , रिसते हैं प्रतिपल हन कर स्मृति -शेष प्रियवर के अब , ढलते हैं दृग -जल बन कर वो गर्म बिछौने सी बांहें , शीत सकल हर लेती...


  • हिंदी दिवस

    हिंदी दिवस

    भावों के शुभ संप्रेषण हित मैं इसका आभारी हूं । मातृभाषा हिंदी मेरी , मैं हिंदी का व्यवहारी हूं ।। हिंदी ही इतिहास मेरा हिंदी ही मेरा भविष्य है इसका रंगों से सराबोर मेरा सारा परिदृश्य...

  • अश्रुबूंद

    अश्रुबूंद

    इसरो के चेयरमैन श्री आर के सिवन को प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा गले लगाते हुए ली गई चित्र संभवतः इस वर्ष की सबसे सुखद तस्वीर है जो अतीव दुखद क्षणों में ली गई है । आजकल...

  • गुरू

    गुरू

    गुरु , प्रतीक है , तप का , नैतिकता का , ज्ञान का गुरु , विश्वास है , विजय का , सफलता , समाधान का गुरु , मां सी ममता है , पिता का अनुशासन है...

  • प्रभात कामना

    प्रभात कामना

    # प्रभात कामना जगमग जागी रेशमी किरणें बीत गई है रात नवल भोर है लेकर आई खुशियों की सौगात जागो मेरे हिन्द के वीरों जागो मेरे यार देश धर्म की सेवा करने हो जाओ तैयार जो...

  • मित्रता दिवस

    मित्रता दिवस

    आज का दिन दोस्ती के नाम दोस्तों है दोस्ती को मेरा सलाम  दोस्तो ।। अगस्त का ये पहला रविवार खूब है ले के आया प्यार प्यार प्यार खूब है है कितना खूबसूरत ये रिश्ता जहां में...