सामाजिक

परिवर्तन

पिछले 20,30 सालों में धरती पर जितनी तेजी से परिवर्तन हुए हैं वो पिछले 300 सालों में नहीं हुए। जीवन का हर पहलू प्रभावित हुआ है। जलवायु परिवर्तन की बात ही ना करें तो भी देखेंगे कि समाज का पूरा स्वरूप ही बदल गया है। आधुनिकता और विकास के चक्कर में हमने वो खो दिया […]

समाचार

त्रिदिवसीय वर्धा साहित्‍य महोत्‍सव

वर्धा, 28 अप्रैल, 2022 : महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्‍वविद्यालय में अमृतलाल नागर सृजनपीठ की ओर से 26- 28 अप्रैल को आयोजित वर्धा साहित्‍य महोत्‍सव के संपूर्ति सत्र की अध्‍यक्षता करते हुए विश्‍वविद्यालय के कुलपति प्रो. रजनीश कुमार शुक्‍ल ने कहा कि वर्धा साहित्‍य महोत्‍सव भारतीय साहित्‍य को आगे ले जाने की दिशा में नंदादीप का काम करेगा। संपूर्ति समारोह में गुजरात […]

राजनीति

नेपाल का फिर से हिंदू राष्ट्र बनना सभी के हित में होगा

नेपाल एक बहुत खूबसूरत दक्षिण एशियाई राष्ट्र है। नेपाल के उत्तर मे तिब्बत है तो इसके दक्षिण, पूर्व व पश्चिम में भारत की सीमाएं लगती हैं। नेपाल के 81.3 प्रतिशत नागरिक सनातन हिन्दू धर्म को मानते हैं। नेपाल पूरे विश्व में प्रतिशत के आधार पर सबसे बड़ा हिन्दू धर्मावलम्बी राष्ट्र है। नेपाल की राजभाषा नेपाली […]

राजनीति

भारत में माओवाद के अन्तिम दिन

हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने माओवादी आतंकी गतिविधियों से संबंधित आंकड़े जारी किए हैं जिसमें कहा गया है कि देश में माओवादी हिंसा में 77% कई कमी आई है। राज्यसभा में जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार माओवादी हिंसा 12 वर्षों के न्यूनतम स्तर पर आ चुकी है। वर्ष 2009 में जहां माओवादी हिंसा […]

राजनीति

पाकिस्तान पर गलती से नहीं चली थी ब्रह्मोस

9 मार्च की खबर है पाकिस्तान के मियां चन्नू में भारत की ब्रह्मोस मिसाइल गिरी । पाकिस्तान के इलाके के अंदर 130 किलोमीटर तक ब्रह्मोस मिसाइल चली गई थी । ये टेस्ट मिसाइल थी जिस पर कोई वॉरहेड नहीं लगा था । मिसाइल से पाकिस्तान में कोई जान माल का नुकसान नहीं हुआ । क्योंकि […]

कविता

नहीं चाहिए युद्ध

नहीं चाहिए युद्ध, कहते हैं गौतम बुद्ध किसने इसे पुकारा है जमीन पर उतारा है कितने हुए बेघर और कितनों को बेमौत मारा हैं जीवन को रखो निर्मल व शुद्ध नहीं चाहिए युद्ध, कहते हैं गौतम बुद्ध महत्वकांक्षी आएं मेरी भी है शायद तुम्हारी भी हैं करेंगे पूरी मिल बैठकर झांठ कर बांट कर मिटायेंगे […]

इतिहास

हिजाब में इतिहास

जब आप नालन्दा विश्विद्यालय जाएंगे तो दो चित्र मिलते हैं। एक प्राचीन नालन्दा विश्वविद्यालय में स्थित महात्मा बुद्ध के प्रिय शिष्य सारिपुत्र, जिन्हें उन्होंने धर्म सेनापति की उपाधि दिया था, उनका समाधि स्तूप है और दूसरा नव नालन्दा विश्वविद्यालय का प्रशासनिक भवन, जो सारिपुत्र की समाधि की अनुकृत के आधार पर बनाया गया है। यद्यपि […]

धर्म-संस्कृति-अध्यात्म

नए युग के रसूल: पेरियार

ये माननीय , विद्वान , तार्किक , नास्तिक , समाज सुधारक , महिलाओं के उद्धारक थे। उन्हें यूनेस्को ने 1970 में ‘नये युग का रसूल’ और ‘दक्षिण-पूर्व एशिया का सुकरात’ की उपाधि से विभूषित किया। 1- क्योंकि नये युग के रसूल ने कहा : * मैं सदा गंदे और मूर्ख लोगों से घिरा रहना चाहता […]

राजनीति

हिंदुस्तान ही खालिस्तान है और सारा खालिस्तान ही हिंदुस्तान है

पंजाब के Nangal (नंगल) और लुधियाना ‘ में कुछ कार्यक्रम थे । प्रश्नोत्तर सत्र के दौरान वहां आमंत्रित मुख्य अतिथि से खालिस्तान समर्थक एक बंधु ने तीख़ा प्रश्न करते हुए कहा- खालिस्तान की मांग पर आप (हिन्दुओं) को क्या कहना है? मुख्य अतिथि ने मुस्कुराते हुए उत्तर दिया :- जब देश को और धर्म को […]

राजनीति

पढ़िये समझिये सोचिए

चुनावी दौर शुरू हो गया है दल बदलु के चेहरे सामने आ रहे हैं। कल तक जो अपने दल की महिमा का गुणगान करते थे उसकी लहर में सांसद बने थे एक तरह से उसके माध्यम से नमक खा रहे थे वो टिकट न मिलने पर स्वयंम् को या अपने परिजन को अच्छी पार्टी छोड़कर […]