हास्य व्यंग्य

माफलर लूट लिया पैसे वाला शराबी

रात के दस बजे थे। मैं रात्रि भ्रमण पर था। निश्चित था। कोई डर नहीं थी। क्योंकि क्षेत्र तो अपना ही था। ऐसे भी दिल्ली के मुख्य क्षेत्रों में सुरक्षा तो सक्रिय ही रहती है। मुझे यह उम्मीद तक नहीं थी कि मैं एक फ्रेंडली लूट का शिकार हो जाउंगा। पर घटनाएं तो अचानक ही […]

राजनीति

न्याय-व्यवस्थाः सुधार के संकेत

सर्वोच्च न्यायालय में आए एक ताजा मामले ने हमारी न्याय-व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी है लेकिन उसने देश के सारे न्यायालयों को नया रास्ता भी दिखा दिया है। हमारी बड़ी अदालत में 1965 में डाॅ. राममनोहर लोहिया ने अंग्रेजी का बहिष्कार करके हिंदी में बोलने की कोशिश की थी लेकिन कल शंकरलाल शर्मा नामक […]

धर्म-संस्कृति-अध्यात्म

इक्ष्वाकु वंशीय गुरु नानक देव: भगवान राम के वंशज

गुरु नानक देव  खत्री वंश में अवतरित हुए थे।      खत्री दरअसल सूर्यवंशी क्षत्रिय ही हैं। खत्री शब्द की उत्पत्ति क्षत्री से हुयी है। *गुरु अंगद जी जब गुरुमुखी अक्षरों का निर्माण कर रहे थे तो उन्होंने क्ष की जगह ख का प्रयोग किया।*  माता हिंगलाज खत्रियों की कुल देवी हैं। गुरु गोविन्द सिंह […]

भाषा-साहित्य

देश में पहली बार हिंदी में चिकित्सा शिक्षा (MBBS) के पाठ्यक्रम का शुभारंभ

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने 16 अक्टूबर को मध्य प्रदेश के भोपाल में देश में पहली बार हिंदी में चिकित्सा शिक्षा (MBBS) के पाठ्यक्रम का शुभारंभ किया। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने नई शिक्षा नीति में प्राथमिक, टेक्निकल और मेडिकल शिक्षा में मातृभाषा को महत्व देकर बहुत बड़ा ऐतिहासिक निर्णय […]

राजनीति

दिल्ली का शराब घोटाला

आजकल दिल्ली में शराब घोटाले की बड़ी चर्चा है जिसमें सीबीआई ने दिल्ली राज्य के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया तथा उनके सहयोगियों के निवास और कार्यालयों पर छापे मारे हैं और अनेक आपत्तिजनक दस्तावेज खोजे हैं। इस घोटाले में आबकारी नीति बदलकर सरकारी खजाने को अरबों खरबों का चूना लगाया गया है और शराब के दुकानदारों […]

भाषा-साहित्य

शिक्षा में संस्कृत अनिवार्य करें

गुजरात के शिक्षामंत्री से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कुछ प्रमुख कार्यकर्ताओं ने अनुरोध किया है कि वे अपने प्रदेश में संस्कृत की अनिवार्य पढ़ाई शुरु करवाएं। यह मांग सिर्फ संघ के स्वयंसेवक ही क्यों कर रहे हैं और सिर्फ गुजरात के लिए ही क्यों कर रहे हैं? भारत के हर तर्कशील नागरिक को सारे भारत […]

हास्य व्यंग्य

सिंह

कहा जा रहा है कि सिंहों को खूंखार दिखाया जा रहा है, गोया सम्राट अशोक के जमाने में सिंह बेहद शालीन हुआ करते थे। कहा जा रहा है कि सम्राट अशोक के स्तम्भ में सिंह अहिंसा के प्रतीक हैं,मतलब सिंहों को हिंसा करना साहेब ने सिखा दिया है। कहा जा रहा है कि मुस्कुराते हुए […]

समाचार

मिशन सन्देश अंक 4 का विमोचन

महामना मालवीय मिशन की त्रैमासिक पत्रिका “मिशन सन्देश” के अंक 4 का विमोचन दिनांक 19 जून 2022 को माननीय डा. कृष्ण गोपाल जी, मा. स्वांत रंजन जी, प्रभु जी, हरिशंकर सिंह जी एवम् डा. ओंकार राय जी के कर कमलों से महामना वाङ्मय सम्बन्धी बैठक में स्मृति भवन में हुआ. पत्रिका के इस अंक का […]

हाइकु/सेदोका

हाइकु – पिता

पिता का प्यार जीवन का आधार पालन हार शसक्त डोर सपनों की उड़ान उज्ज्वल भोर अभिमान है जिसके पास पिता पहिचान है पिता की गोद मुझे सुकून देती दुख बिसरे पिता विश्वास हर पल साथ हैं जीने की आस ज्ञान की खान आस्थाओ का सम्बल पिता आकाश नई उम्मीद जिंदगी की जंग में मेरे करीब […]

भाषा-साहित्य

हिंदी के लिए खुला विश्व-द्वार

संयुक्तराष्ट्र संघ में अभी भी दुनिया की सिर्फ छह भाषाएं आधिकारिक रूप से मान्य हैं। अंग्रेजी, फ्रांसीसी, चीनी, रूसी, हिस्पानी और अरबी! इन सभी छह भाषाओं में से एक भी भाषा ऐसी नहीं है, जो बोलनेवालों की संख्या, लिपि, व्याकरण, उच्चारण और शब्द-संख्या की दृष्टि से हिंदी का मुकाबला कर सकती हो। इस विषय की […]