कविता

महत्व

जीवन में हर चीज का अपना महत्व होता है, पर हम उसे अपने जीवन में कितना महत्वपूर्ण मानते हैं । यह हम पर निर्भर होता है जैसे दुःख है , तभी तो सुख का आनंद है, आलोचना है, तभी तो प्रशंसा का महत्व है, उद्देश्य है , तभी तो योजनाएँ बनती है, घृणा है , […]

समाचार

डॉ. सारिका ठाकुर”जागृति” सम्मानित

ग्वालियर,(मध्यप्रदेश). ग्वालियर की प्रख्यात तथा सबके हदय में अपना गरिमापूर्ण स्थान बनाने वाली समाज सेविका,कवयित्री,लेखिका,संपादिका और शिक्षिका डॉ सारिका ठाकुर जी समाज में व्याप्त दरिंदगी, महिला उत्पीडन को जड़ से उखाड़ फेंकने का प्रयास अपनी कलम के माध्यम से  निरंतर अपने आलेख तथा काव्य के माध्यम से साहित्य में अपना योगदान दे रही है। उनके […]

सामाजिक

महिलाएँ भी बना सकती है अपनी पहचान

जिंदगी बहुत छोटी है और इस जिंदगी में हमें ऐसा बहुत कुछ करना है जो हमें ऊंचाई की ओर ले जाए। कई लोग सोचते हैं कि अगर उनकी जिंदगी में हालात कुछ बेहतर होते तो वो खुद को बहुत ही आगे लेकर जाते, लेकिन ऐसे उदाहरण भी हैं जो लोग हालात से लड़कर आगे पहुंचे […]

गीतिका/ग़ज़ल

शीर्षक :- प्यार की मर्यादा

कुछ चेहरों को कभी भुलाया नहीं जाता गैर तो गैर हैं उन्हें कभी पाया नहीं जाता प्यार की मर्यादाओं में जो बंध जाते हैं तो बंदिशों की सीमाओं को लांँघा नहीं जाता मरता तो रोज है खयालों में हर आदमी मौन होठों में दर्द कभी छुपाया नहीं जाता प्यार तो समर्पण , त्याग की एक […]

सामाजिक

क्या वाकई में आज हम स्वतंत्र हैं?:डॉ.सारिका ठाकुर

भारत एक स्वतंत्र राष्ट्र है ‘स्वतंत्र’ शब्द सुनने मात्र से ही हमारे मन में खुशी का आभास होने लगता है, क्योंकि हमें स्वतंत्रता का महत्व पता है, हमारा देश इतने सालों से परतंत्र की बेड़ियों मैं जकड़े हुए था जिसे अनेक बलिदानों के द्वारा स्वतंत्र कराया गया। परंतु आज फिर से यह प्रश्न मेरे जेहन […]

सामाजिक

कन्या भ्रूण हत्या एक जघन्य अपराध है,डॉ.सारिका ठाकुर

“बेटा-बेटी में समानता की आओ घर घर मे अलख जगाए हर बहु को बेटी मानने की सास-ससुर को राह दिखाए” दोस्तो, जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं कि सम्पूर्ण भारतीय राष्ट्र की महिलाओं तथा बच्चियों की आत्मसुरक्षा के लिए निरंतर हमारा शासन और हम सब अपने सार्थक प्रयासों के द्वारा अनेक प्रशिक्षण शिविर आयोजित […]

राजनीति

क्या वाकई में आज हम स्वतंत्र हैं?

सभी  देशवासियों को 75 वें स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक हार्दिक बधाई और शुभकामनाएंँ! भारत एक स्वतंत्र राष्ट्र है ‘स्वतंत्र’ शब्द सुनने मात्र से ही हमारे मन में खुशी का आभास होने लगता है, क्योंकि हमें  स्वतंत्रता का महत्व पता है, हमारा देश इतने सालों से परतंत्र की बेड़ियों मैं जकड़े हुए था जिसे अनेक बलिदानों […]

लेख

कोविड-19 टीकाकरण हम सबकी नैतिक जिम्मेदारी : सारिका ठाकुर

कोविड-19 टीकाकरण हम सबकी नैतिक जिम्मेदारी : सारिका ठाकुर   संक्रमण के मौजूदा दौर में हम सबकी नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि केंद्र व राज्य शासन के मापदंडों का गंभीरता के साथ पालन करें। स्वजनों के साथ पास के केंद्र में पहुंचें व टीकाकरण कराएं। टीका आपका सुरक्षा घेरा है। बिना संशय के यह काम […]

सामाजिक

कोरोना के बढ़ते प्रभाव, आपदा या अवसर

दोस्तों, आज हम सभी लोग जानते हैं कि इस समय हमारा देश कोरोना की तीसरी लहर में पहुंच रहा है। जिसके चलते देश का हर नागरिक परेशान हो रहा है । जहांँ इस समय हमें एक साथ खड़े होकर इस समस्या का समाधान खोजना चाहिए, वही हम लोग कहीं ना कहीं इसे एक आपदा ना समझ […]

पर्यावरण

जल सरंक्षण हमारा दायित्व ही नही, हमारा कर्तव्य भी हैं।

दोस्तों, हम हमेशा से सुनते आये हैं “जल ही जीवन है”। जल के बिना जीवन की कल्पना भी मुश्किल है जीवन के सभी कार्यों का निष्पादन करने के लिये जल की आवश्यकता है। कवि एवं सन्त रहीम दास जी ने सदियों पहले पानी का महत्व बता दिया था किन्तु हम आज भी जल संरक्षण के प्रति […]