Author :

  • सोशल मीडिया का महत्व

    सोशल मीडिया का महत्व

    निःसंदेह वर्तमान में फेसबुक व व्हाट्सएप जैसे सोशल मीडिया के माध्यमों में परस्पर परिचय,मित्रता,आत्मीयता व जानकारियों के साथ ही भावनाओं के आदान-प्रदान में अत्यंत महत्वपूर्ण भूमिका है ! अपरिचितों के मध्य मैत्री सम्बंधों की स्थापना,बिछुड़ों की...

  • कविता – पेड़

    कविता – पेड़

    पेड़ लगाओ पेड़ बढाओ पेडों से मधुवन है । पेड़ सांस हैं पेड़ आस है पेडों से जीवन है । पेड़ नीर हैं पेड़ पीर हैं पेडों से सावन है । पेड़ सुहावन पेड़ मनभावन पेडों...

  • गीत –मॉँ

    गीत –मॉँ

    सूरज है तू, और चांदनी, नीलगगन की रानी ! हे मॉँ सबसे अलग, निराली, तेरी नेह कहानी !! पर्वत-सी ऊंचाई तुझमें, सागर-सी गहराई दरिया-सी कल-कल है तुझमें, विधना-सी प्रभुताई ममता तेरी अनुपम है माँ, तेरी हो...

  • गर्मी के दोहे

    गर्मी के दोहे

    सूरज आतिश बन गया,तपे नगर औ” गांव ! जीव सभी अकुला उठे,ढूंढ रह सब छांव !! सूरज का आक्रोश है,बिलख रहे तालाब ! कुंओं,नदी ने भी ‘शरद’,खो दी अपनी आब !! कर्फ्यु सड़कों पर लगा,आतंकित हर...

  • नीर के दोहे

    नीर के दोहे

    नीर लिए आशा सदा,नीर लिए विश्वास ! नीर से सांसें चल रही,देवों का आभास !! अमृत जैसा है “शरद”, कहते जिसको नीर ! एक बूंद भी कम मिले,तो बढ़ जाती पीर !! नीर बिना जीवन नहीं,अकुला...


  • होली के दोहे

    होली के दोहे

    रंगों के सँग खेलती,एक नवल- सी आस ! मन में पलने लग गया,फिर नेहिल विश्वास !!   लगे गुलाबी ठंड पर,आतपमय जज़्बात ! प्रिये-मिलन के काल में,यादें सारी रात !!   कुंजन,क्यारिन खेलता,मोहक रूप बसंत !...


  • बसंत-गीत

    बसंत-गीत

    वन-उपवन में तू बिखरा है, सचमुच तुझ पर यौवन है ! अमराई, सरसों, पलाश पर, तुझसे ही तो जीवन है !! बहता है तू संग पवन के, हर कछार में दिखता है प्रेमकथा की रचना करके,...