Author :


  • चन्द्रयान -2

    चन्द्रयान -2

    टूटा है सम्पर्क अभी विक्रम और प्रज्ञान का टूटा नहीं भरोसा है अभी मेरे हिन्दुस्तान का इसरो मैं हूँ साथ खड़ा किए भरोसा तेरे काम का सदियों तक गीत गाया जायेगा भारत के विज्ञान का जीत-हार...

  • झोंझ

    झोंझ

    कितना सुन्दर घर है जिसको कहते झोंझ हैं तिनका-तिनका चुनकरके खूब सजाती झोंझ है जरा सहारा डाल का ईंट गारा सूखे-साखे खरपतवार का बड़ी लगन और मेहनत से कर डाला निर्माण है झोंझ का कितना सुन्दर...

  • सबकुछ हैं वो

    सबकुछ हैं वो

    क्या होती है माँ वो माँ से पूछो क्या होता है पिता वो एक पिता से पूछो | खुद के सपनों को चकनाचूर करके तुमको क्या क्या दिया जरा मुङकर तो देखो || तुम अपने ही...