सामाजिक

वाशिंगटन मे नौ साल की बच्ची के साथ की गयी क्रूरता

आज दुनिया के सभी देश आधुनिकता की राह पे चलते हुए दिन प्रतिदिन जहां तरक्की कर रहे हैं।साथ ही जहां हर देश के रहवासियों को एकता,भाईचारे, अपनापन और प्यार का पाठ पढ़ाया जा रहा है।ताकि हर देश मे खुशी और एकता अपनापन होगा तो ये दुनिया स्वर्ग सी प्रतित होने लगेगी।सब खुशी खुशी रहने लगेंगे।इसी […]

सामाजिक

एक कड़वा सवाल- क्या मिलना जरूरी है?

आज एक कड़वा सवाल मन मे बहुत बैचेनी सी उत्पन्न कर रहा था।जब कल्पना मात्र से ही मेरी कलम का स्वाद ही कड़वा हो गया तो वो कड़वे और तीखे शब्दों संग मेरे अंतर्मन को क्रोध और कड़वाहट से भरने लगी।इसी क्रोध और कड़वाहट को कम करने के लिये दिल बोला कि वीना आज उड़ेल […]

सामाजिक

अतिक्रमण

आज हर एक राज्य,हर एक शहर,हर एक मौहल्ले मे एक समस्या एक बहुत जो की वर्तमान मे बड़ी समस्या बन के रह गई है।जो हमारे लिये साथ ही यातायात,बाजारों सभी के लिये चुनौती बन सीना ताने खड़ी है और वो समस्या है *अतिक्रमण*।सच ये अतिक्रमण समस्या दिन प्रति दिन जटिल समस्या का रुप बनती जा […]

सामाजिक

आत्महत्या सिर्फ़ कायरता की सूचक है

कितना छोटा सा शब्द है, ये *आत्महत्या* परंतु बहुत ही भयावह है ये।बहुत से इंसा ऐसे हैं जो सिर्फ़ एक शव देख कर भी डर जाते हैं । तो ऐसे लोगों के लिये आत्महत्या शब्द तो उनके जह़न से कल्पना से भी परे है।सच आज इसी विषय को लिखने का विचार जागा जब पांच अखबारों […]

सामाजिक

नरभक्षी है ये दहेज़ परंपरा

आज चलिये फिर से एक कड़वी सच्चाई या कहें एक कालिख़ जो अभिशाप बन तांडव मचाती हुई सदियों से ग्रहण बन समाज छाई हुई है और आज आधुनिकता मे भी छाई हुई है।ना जाने ये कालिख बन जो ग्रहण बन हमारे समाज मे छाया हुआ है ये दाग कभी मिटेगा भी या नहीं।और इस कालिख […]

सामाजिक

हिंसा का हिस्सा नहीं, समाधान बनकर तो देखिये

बिल्कुल सही कहा आज के सीधा प्रसारण मे हमारे आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने राज्यसभा की बैठक से कि *हिंसा का हिस्सा नहीं बनें बल्कि हिंसा का आप एक समाधान बनें*वाकई उनका कहा एक-एक शब्द कानों मे जैसे एक चेतना सी उत्पन्न कर,सबका जैसे हौसला बड़ा रहा था कि यदि विपदा मे हम सब साथ हैं […]

पर्यावरण

उत्तराखंड मे फिर कुदरत ने बरसाया कहर

भारत देश के अंतर्गत आने वाला उत्तराखंड भारत की धरा पर एक स्वर्ग सा प्रतित होता है।यहां के सौंदर्यता का जितना भी वर्णन किया जाऐ कम है।उत्तराखंड मे ही स्थित देख का गौरव हिमालय हमारे देश निरंतर एक पहरेदार की तरह अडिंग हो जैसे रक्षा करता से देश की सीमा के बाहर रह रहे शत्रुओं […]

राजनीति

आखिर किन्नरों को विजय मिली

कई वर्षों से चल रहे अदालत मे एक विवाद पर जब अहम़ फैसला सुना मुहर विजय की लगाई गयी तो उन सभी के चेहरे पर विजयी पताका देख खुशी का ठिकाना नहीं था सभी लोगों का।ये विवाद था किन्नरों और आम इंसान की हर क्षेत्र मे नियुक्ति(नौकरी) को जो लेकर था।जहां आम इंसान को तो […]

सामाजिक

कब तलक यूं आशा किरण बुझती रहेगी

हर दिन एक आशा की लौ जलाऐ रहते कि आज जो कोई भी घटना सुर्खियों मे रही हैं,ऐसी कोई भी अप्रिय घटनाएं कल ना होंगी परंतु ये क्या दुसरे दिन फिर सुर्खियों मे कोई ना कोई अप्रिय घटना की खबर सुन मन पीढ़ा से हर जाता है।कब तक ऐसी अप्रिय वारदातों से हमारे रोज़ के […]

राजनीति

26 जनवरी 2021 के हुडदंग का जवाबदार कौन

26 जनवरी 2021 का दिन किस स्याही से लिखना चाहिये ये कौन तय करेगा*(किसान,सरकार,प्राइवेट कम्पनियां या नकाब ओढ़े भ्रष्टाचारी)*सच बहुत ही शर्मसार कर देने वाली ये घटना कभी भी भुले ना भुलाई जा सकती है।इस घटना को अंज़ाम भी कहां दिया गया उस स्थान पर जो इतना पवित्र जगह है हमारे देश का,जहां से हमारे […]