सामाजिक

सुनियोजित षड़यंत्र को समझो

आज टीवी खोल कर देखा तो विभिन्न चैनल के विषयों देखिये -दीपिका-रणवीर की रिसेप्शन -प्रियंका-निक की शादी -ऑस्ट्रेलिया-भारत की क्रिकेट सीरीज -अपना गृह-नक्षत्र जानिए -करतारपुर और सिद्धू को लेकर विवाद -सास-बहु के सीरियल -पंजाबी के द्विअर्थी गाने -धर्म के नाम पर पाखंड आदि हिन्दू समाज के समक्ष बढ़ रहे खतरे जैसे बढ़ती मुस्लिम जनसंख्या, ईसाई […]

धर्म-संस्कृति-अध्यात्म

साईं मुस्लिम या हिन्दू?

विगत कई वर्षों से हिन्दू मंदिरों में साईं बाबा की मूर्तियां बनाकर उनकी पूजा-अर्चना की जाने लगी है। संभवत ऐसा कोई शहर न होगा जहाँ के पहले से स्थापित मंदिरों में साईं बाबा का प्रवेश न हुआ हो। मेरा दावा है कि साईं बाबा को पूजने वालों ने ऐसा कभी नहीं सोचा की वे साईं […]

राजनीति

योगी आदित्यनाथ और दलित “हनुमान” जी

“भारत की परंपरा में एक ऐसे लोक देवता हैं जो स्वयं वनवासी हैं, गिरिवासी हैं, दलित हैं, वंचित हैं, सबको लेकर के सभी पूरे भारतीय समुदाय को लेकर उत्तर से लेकर दक्षिण तक, पूरब से पश्चिम तक सबको जोड़ने का काम बजरंगबली करते हैं। इसलिये बजरंगबली का संकल्प होना चाहिये।” यही शब्द योगी जी के […]

राजनीति

ईसाई मिशनरी का मायाजाल

गैर ईसाईयों को ईसाई बनाने के लिए किस तरह के षड्यंत्रों का प्रयोग किया जाता है वह विचारणीय है।  क्या आपने कभी सुना है कि कुछ मुस्लिम आज तक इसाई बने है? आखिर हिन्दू ही इतना आसान क्यों है? कुछ समय पहले झारखण्ड सरकार ने No Conversion ( धर्मान्तरण रोकने का कानून बनाया तो समस्त […]

धर्म-संस्कृति-अध्यात्म

आर्यसमाज में मेरा 18 वर्षों का अनुभव

(आज 28/11/2018 को जन्मदिवस के अवसर पर आप सभी मित्रों का मंगल कामना एवं बधाई सन्देश मिला। उनका कोटि कोटि धन्यवाद। अनेक मित्रों ने इस अवसर पर अपने आर्यसमाज के अनुभवों को साँझा करने का निवेदन किया। मैं मेरे आर्यसमाज में 18 वर्षों के अनुभव को एक लेख के माध्यम से आप सभी से साँझा […]

धर्म-संस्कृति-अध्यात्म

गुरु नानक एवं गुरुपर्व

(गुरुपर्व पर विशेष रूप से प्रकाशित) आज गुरु नानक जी स्मृति में गुरुपर्व बनाया जाता है। हर साल की भांति सिख समाज गुरु पर्व पर गुरुद्वारा जाते हैं, शब्द कीर्तन करते हैं, लंगर छकते हैं, नगर कीर्तन निकालते हैं। चारों तरफ हर्ष और उल्लास का माहौल होता हैं। एक जिज्ञासु के मन में प्रश्न आया […]

सामाजिक

ब्राह्मण शब्द को लेकर भ्रांतियां एवं उनका निवारण

ट्विटर के सीईओ जैक डोरसी की एक तस्वीर से भारत में इस सोशल मीडिया के प्लेटफार्म का इस्तेमाल करने वाले लोगों में काफी नाराजगी है। डोरसी इस तस्वीर में एक पोस्टर लेकर खड़े है जिस पर लिखा है ‘स्मैश ब्राह्मिकल पैट्रिआर्की’ यानी ब्राह्मणवादी पितृसत्ता वर्चस्व को तोड़ो। यह तस्वीर उन्होंने कुछ महिला पत्रकारों, कार्यकर्ताओं, लेखकों […]

धर्म-संस्कृति-अध्यात्म

वेदों में वर्णित सूर्य एवं छठ पर्व

आज छठ पर्व है। सूर्योपासना का यह पर्व कार्तिक महीने के शुक्ल पक्ष के चतुर्थी से सप्तमी तिथि तक मनाया जाता है। सूर्यषष्ठी व्रत होने के कारण इसे ‘छठ’ कहा जाता है। सुख-समृद्धि और मनोवांछित फल देने वाले इस पर्व को पुरुष और महिला समान रूप से मनाते हैं, लेकिन आमतौर पर व्रत करने वालों […]

इतिहास

दलित उत्थान का प्रेरणादायक संस्मरण

1920 के दशक में स्वामी श्रद्धानन्द ने दलितोद्धार का संकल्प लिया। उस काल में दलित कहलाने वाली जनजातियों को सार्वजानिक कुओं से पानी भरने की अनुमति नहीं थी। इस अत्याचार के विरुद्ध आर्यसमाज के शीर्घ नेता स्वामी श्रद्धानन्द ने आंदोलन चलाया। उन्होंने पहले महात्मा गाँधी और कांग्रेस से दलितों के हक के लिए सहायता मांगी […]

इतिहास

प्रथम विश्व युद्ध एवं भारत

11 नवंबर 2018 को प्रथम विश्व युद्ध (1914-1918) की समाप्ति के 100 वर्ष पूर्ण होते है। इस अवसर पर इस लेख के माध्यम से इस विश्व युद्ध में भारत ने क्या खोया और क्या पाया इस विषय पर चर्चा करेंगे। आपको साम्यवादी लेखक सदा अंग्रेजों की प्रशंसा करते मिलेंगे कि अंग्रेजी राज में रेल, डाक […]