Category : लघुकथा


  • बंदिश

    बंदिश

    संशोधित मोटर वीइकल ऐक्ट-2019 के लागू होने के बाद सौरभ बहुत डरा हुआ था. कई साल से वह कार चला रहा था. मोटर बाइक चलाते हुए उसने कभी हेलमेट पहना नहीं था, कभी-कभी महज दिखावे के...

  • धुन में घुन

    धुन में घुन

    अहमदाबाद का एक इलेक्ट्रिशियन जयेश पटेल अपनी पड़ोसिन के अमेरिका में रहकर ज्यादा कमाई कर पाने की बात सुनकर अमेरिका जाने की धुन को पूरा करने में प्रयासरत हो गया. ”मैं अमेरिका कैसे जा सकता हूं,...

  • यादें

    यादें

    कैलाश सर नियत समय पर होटल पहुँच गए थे। पर उनकी कैरियर सेवा शाला के विद्यार्थी नहीं आए थे। शून्य में निहारते बीते दिनों की यादों में खो गए — परमाणु ऊर्जा विभाग से सेवानिवृत्ति, विधुर,...

  • श्री गणेश

    श्री गणेश

    ”बिटिया, सारे घर में ए. सी.लगे हुए हैं, उनको छोड़कर तुम यहां बाहर गर्मी में क्यों बैठी हुई हो?” इकलौती बिटिया सलोनी को ढूंढते हुए पिता ने उसे देखते ही पूछा. ”पापा, इस दीवार पर माली काका...

  • छतरी

    छतरी

    “सुनों बेटा हो सके तो एक छतरी अपने दूधवाले भइया के लिए लेकर आना आज बाजार से । कई दिनों से बरसात की वज़ह से रामदास भींग रहा है। पूरे महीने जितनी आमदनी नहीं होगी उससे...

  • लघुकथा – ग़रीब की ताक़त

    लघुकथा – ग़रीब की ताक़त

    “बेटा, तू ढंग से खाना खाता नहीं ।पौष्टिक भोजन करेगा तभी तो खेलकूद ,पढ़ाई लिखाई में अव्वल आएगा।” राजू की मम्मी कह रही थीं। राजू ने बाल सुलभ चपलता के साथ कहा,”मम्मी, क्या सचमुच फल, मिठाई,...


  • सीखना

    सीखना

    ढाई साल की एक छोटी-सी बच्ची मां को रोटियां सेकते हुए देख रही थी. उसका मन भी तवे पर रोटी पलटने को मचल गया. मां उसका हाथ जल जाने के डर से उसे ऐसा नहीं करने...