Category : कहानी



  • वो हमारा पहला टेलीविज़न

    वो हमारा पहला टेलीविज़न

    वर्ष 1985 जब मैंने अपनी चौथी क्लास से पांचवी क्लास में प्रवेश किया।तकरीबन अप्रैल में हमारे परिवार के लिए एक बड़ी खुशखबरी की बात रही,जब हमारे घर में पहला ब्लैक एंड वाइट टेलीविजन आया। वेस्टन कंपनी...

  • औरत !

    औरत !

    पूनम आज भी अपने पति के साथ ज़िन्दगी गुजारना चाहती थी पर समय जाने क्या-क्या रंग दिखा रहा था। औरत हूँ शायद इसलिए इतना बड़ा फैसला नहीं ले पा रही हूँ….ऊपर से दो बेटियां हैं वो भी मेरी...


  • नई सोच -कहानी

    नई सोच -कहानी

    नई सोच दीपा की शादी 10 वर्ष की उम्र में ही दीपंकर से हो गई थी | गांवकी रीति-रिवाजों के अनुसार वह 16 वर्ष की उम्र तक मायके में ही रही | उसके बाद उसका गौना...


  • वेशभूषा

    वेशभूषा

      किशन बेहद गरीब युवक था । धन संपत्ति के नाम पर उसके पास थोड़ी सी उपजाऊ जमीन थी और एक गाय थी । खेती किसानी में मन नहीं लगता था । अपनी ही परती पड़ी...

  • कहानी – टापू वाला गांव

    कहानी – टापू वाला गांव

    इस साल की बरसात पता नहीं अब क्या-क्या जुल्म ढाएगी। सीत्तू व ठुनिया अपने मचान के बाहर बड़ी मुश्किल से कुछ देर नदी को रोकने के साहस से बनी झील के फैलते प्रचंड रूप को देख...

  • कुछ नहीं

    कुछ नहीं

    खाना खाने के लिए मेरी अपनी अकेले की जगह है और वोह है किचन टेबल के साथ। यहाँ मेरे लिए एक डिसेबल चेअर है। यों तो घर में कहीं भी बैठ कर खा लेता हूँ लेकिन मेरी आसानी...